सीएम योगी ने बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया

लखनऊ। बारिश के चलते इस समय उत्तर प्रदेश के कई जिले इस समय बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित हैं। इसका जायजा लेने के लिए शुक्रवार को सीएम योगी ने हवाई सर्वेक्षण किया। उन्होंने पीड़ित परिवारों को पूर्ण मदद देने का भरोसा भी दिलाया है। शुक्रवार को सीएम योगी नेे लखीमपुर, गोंडा, बाराबंकी और बहराइच में हवाई सर्वेक्षण कर बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा किया और स्थिति का जायजा लिया। बाराबंकी में बाढ़ पीड़ित परिवारों को सीएम योगी ने राहत सामग्री भी प्रदान की और उन्हें भरोसा दिलाते हुए कहा कि आपदा पीड़ितों की मदद के लिए केंद्र व राज्य सरकार दोनों ही जनता की पूरी तरह से मदद करेंगी। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को हर संभव मदद देने के निर्देश भी दिए।

हवाई सर्वेक्षण- यूपी के 22 जिले

सीएम योगी ने सबसे पहले बहराइच के बाढ़ प्रभावित महसी क्षेत्र में हवाई सर्वेक्षण किया। इसके बाद उन्होंने गोंडा के बाढ़ प्रभावित करनैलगंज इलाके का जायजा लिया। आपको बता दें कि गोंडा, बलरामपुर, बहराइच, लखीमपुर खीरी बाढ़ की वजह से सबसे ज्यादा प्रभावित हैं। दरअसल नेपाल से बहने वाली नदियों की वजह से इन जिलों के सैकड़ों गांव बाढ़ के पानी में डूब से गए हैं। इनके अलावा यूपी के 22 जिले फिलहाल बाढ़ की चपेट में हैं।

36 गांवों में घाघरा का पानी,175 लोगों की मौत

हवाई सर्वेक्षण के दौरान लखीमपुर पहुंचे सीएम योगी ने जिले के बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा किया और अधिकारियों को राहत सम्बन्धी निर्देश दिये। उन्होंने इस दौरान कहा कि जिले में बाढ़ से राहत के लिये राज्य के राहत कोष से 46 करोड़ रुपये की धनराशि जारी की गयी है। घाघरा नदी का जलस्तर बढ़ जाने से एग्लिन-चरसड़ी तटबंध टूट गया है। जिसकी वजह से 36 गांवों में घाघरा का पानी घुस गया है। इस कारण गोंडा व बाराबंकी जिलों में तो हालत बेहद खराब हैं। बाढ़ और बारिश की वजह से प्रदेश में अब तक 175 लोगों की मौत हो चुकी है।

ये भी पढ़ें :-अखिलेश ने अभ्यर्थियों की समस्याओं को गंभीरता से लिया

 

About Samar Saleel

Check Also

दिल्ली सरकार का 10वीं-12वीं के छात्रों तोहफा- नहीं देनी होगी बोर्ड परीक्षा की फीस

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (CBSE) के 10वीं और 12वीं बोर्ड की फीस बढ़ाने के ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *