बेरोजगारी बढ़ी, विकास दर घटी!

लखनऊ। प्रदेश की वर्तमान सरकार के बारे में जहां एक ओर मुख्यमंत्री द्वारा प्रदेश के विकास के लिए किये गये कार्यों का ब्यौरा रखकर सरकार की अच्छाइयों की वकालत किया जा रहा है तो वहीं दूसरी तरफ सरकार के श्रम विभाग तथा अर्थ एवं संख्या विभाग सरकार की किरकिरी कराने में कोई कसार नहीं छोड़ रहा है। विभाग के इस रवैये का फायदा उठाते हुए विपक्षी दल सरकार को घरने का कोई भी मौका छोड़ने के पक्ष में नहीं दिख रहा है। श्रम विभाग के अनुसार प्रदेश में बेरोजगारी बढ़ने की बात कही गयी है,जबकि मुख्यमंत्री से सम्बद्ध अर्थ एवं संख्या विभाग के अनुसार प्रदेश की विकासदर पूर्व की तुलना में घटी है। यह बात उपरोक्त दोनों विभागों द्वारा लिखित रूप से विधानसभा में प्रस्तुत की गयी।

विकासदर गत वर्ष की तुलना में घटी

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश विधानमण्डल के उच्च सदन ‘विधान परिषद’ के अन्दर कांग्रेस पार्टी के सदस्य दीपक सिंह ने सत्र के दौरान अपने अधिकार का उपयोग करते हुये उपरोक्त दोनों विभागों से दो अलग-अलग प्रश्न पूछे थे। पहले मामले में श्रम एवं सेवायोजन विभाग के मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या को सम्बोधित प्रश्न में पूछा गया कि ‘क्या प्रदेश में बेरोजगारी बढ़ी है ? इसके जवाब में उत्तर आया ‘जी-हां’ बेरोजगारी बढ़ी है। दूसरा ‘अर्थ एवं संख्या’ विभाग जोकि सीधे मुख्यमंत्री के पास है,तो दूसरा प्रश्न मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सम्बोधित था। मुख्यमंत्री की तरफ इशारा करते हुए दीपक सिंह ने सवाल किया कि क्या प्रदेश में विकास दर घटी है? तो इसके जवाब में मुख्यमंत्री की तरफसे जवाब आया-“हां”,प्रदेश में विकासदर गत वर्ष की तुलना में घटी है। उक्त दोनों ही सवालों के जवाब लिखित रूप से विधान परिषद के पटल पर प्रस्तुत किये गए।

जब प्रदेश सरकार के दो महत्वपूर्ण विभाग विपक्ष के एक ही सवाल के दो अलग-अलग जवाब देने जैसी मूर्खतापूर्ण हरकत करेंगे तो ऐसे में विपक्ष के हमलों से होने वाली किरकिरी से सरकार को कौन बचा सकता है!

सूर्य प्रताप सिंह
सूर्य प्रताप सिंह

ये भी पढ़ें – Subarna Nodi : महिला पत्रकार की गला रेतकर हत्या

About Samar Saleel

Check Also

दिल्ली सरकार का 10वीं-12वीं के छात्रों तोहफा- नहीं देनी होगी बोर्ड परीक्षा की फीस

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (CBSE) के 10वीं और 12वीं बोर्ड की फीस बढ़ाने के ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *