सुप्रीम कोर्ट : LGBT प्रेम की आजादी

भारत की आजादी के 71 सालों के बाद तक हमारे विविधता वाले देश में एक ऐसा वर्ग भी था जिसको जीने की असल आजादी 6 सितम्बर 2018 को मिली है। यह वह वर्ग ( LGBT ) है जिसे आज तक समाज में बीमारी की तरह देखा और शाप की तरह माना जाता था। लेकिन सुप्रीम कोर्ट के फैसला आने के बाद लोगो के विचारों में शुद्धता आने की उम्मीद लगाई जा रही है।

देश और दुनिया में फैसले का स्‍वागत : LGBT

समलैंगिक यौन संबंधों को अपराध के दायरे से बाहर करने में भारत की सुप्रीम कोर्ट के फैसले का देश और दुनिया में स्‍वागत हो रहा है। अंग्रेजों के लादे गए बोझ को आज आजाद भारत के न्यायपालिका ने हजारों लाखों युवाओं और परिवारों के सिर से उतारने का काम किया है। धारा 377 को लेकर सुप्रीम कोर्ट का निर्णय मेन स्ट्रीम मीडिया और सोशल मीडिया पर छा गया है।

प्रेम और शादी की आजादी

समलैंगिक प्रेम और शादी की आजादी की लड़ाई बिलकुल आसान नहीं थी खासकर तब जब यूनियन ऑफ़ इंडिया (भारत सरकार) इसके पक्ष में नहीं थी। चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा, जस्टिस आर ऍफ़ नरीमन, जस्टिस ए म खानविलकर, जस्टिस डी य चंद्रचूड़ और जस्टिस इंदु मल्होत्रा की पांच जजों की बेंच को समलैंगिक यौन संबंधों को अपराध के दायरे से बाहर करने के लिए इतिहास में जरूर याद रखा जाएगा।

पांच जजों की बेंच ने भावनात्मक रूप से प्रेम करने की आजादी के इस फैसले को सुनाने में हुए सालों की देरी की LGBT वर्ग से माफ़ी भी  मांगी।

चुनौती देने में अग्रपंक्ति में ये लोग

धारा 377 को आप्राधिक श्रेणी से हटाने की लड़ाई बिलकुल आसान नहीं थी। सालों तक लड़ी गई इस लड़ाई के नाइकों और नायकों ने भारतीय इतिहास में अपना नाम स्वर्ण अक्षरों में लिखवा लिया है। कोर्ट में धारा 377 के लिए चुनौती देने में ये लोग अग्रपंक्ति में थे।

1- सुनील मेहरा : सुनील मेहरा पत्रकार, लेखक, अभिनेता, निर्माता और निर्देशक हैं। करीब दो दशक से वह नवतेज सिंह जौहर के साथी हैं।

2- नवतेज सिंह जौहर : संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार जीतने वाले नवतेज सिंह जौहर क्लासिकल डांसर हैं। 59 वर्षीय नवतेज अशोका यूनिवर्सिटी में गेस्ट फैकल्टी हैं। 2010 में मिशिगन विश्वविद्यालय में पढ़ा चुके हैं।

3- अमन नाथ : नीमराना होटल्स के मालिक अमन नाथ ने इतिहास और कला पर कई किताबें लिखी हैं। 61 वर्षीय नाथ कवि भी हैं और उनकी कई किताबें चर्चित हुई हैं। उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय से इतिहास में एमए की डिग्री ली है।

4- रितु डालमिया : सेलेब्रिटी शेफ हैं रितु डालमिया। कोलकाता के मारवाड़ी परिवार में जन्मी 45 वर्षीया रितु कई फूड शो होस्ट करने के अलावा कुकिंग पर कई किताबें भी लिख चुकी हैं। छोटी उम्र से ही वह पारिवारिक बिजनेस में भागीदार हैं।

5- केशव सूरी : 33 वर्षीय केशव सूरी ललित सूरी हॉस्पिटेलिटी ग्रुप के कार्यकारी निदेशक हैं। वे दिवंगत ललित सूरी के बेटे हैं। सुप्रीम कोर्ट में दायर याचिका में उन्होंने कहा था कि लगभग एक दशक से एक व्यक्ति से उनका रिश्ता है।

रवि गोकुल

About Samar Saleel

Check Also

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली की तबीयत बेहद नाजुक, दिया जा रहा है ECMO और IABP सपोर्ट

लंबे समय से बीमार चल रहे पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता अरुण ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *