निशक्त बच्चों ​के लिए समिति का गठन

नई दिल्ली। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड सीबीएसई ने निशक्त बच्चों, चिल्ड्रेन विद स्पेशल नीड के बोर्ड संबंधी नीति तैयार करने के लिये एक समिति का गठन किया है। स्कूलों से ऐसे विशेष बच्चों की जरूरतों को ध्यान रखते हुए सुझाव देने को कहा गया है। सीबीएसई में अतिरिक्त निदेशक डा. विश्वजीत साहा की ओर से जारी परिपत्र में कहा गया है कि समिति निशक्त बच्चों के बोर्ड के बारे में नीति तैयार करते हुए समावेशी शिक्षा प्रदान करने का खाका पेश करेगी। इसके साथ ही इन नीतियों में समावेशी शिक्षा बनाम शिक्षा के समन्वय के आधार पर ऐसे निशक्त बच्चों के लिये विभिन्न स्तर का निर्धारण करेगी। इसमें कहा गया है कि बोर्ड विशेष जरूरत वाले बच्चों की परीक्षा के संबंध में नीति तैयार करेगी। इसके साथ नीति में ऐसे निशक्त बच्चों का खास ध्यान रखा जायेगा, जिनके सीखने की रफ्तार काफी धीमी है।
सीबीएसई के एक अधिकारी ने एएनएस को बताया कि स्कूलों से इस संबंध में सुझाव मांगे गए हैं। हाल ही में नि:शक्त बच्चों की जरूरतों को समझते हुए स्कूलों में उनके अनुकूल माहौल बनाने तथा उन्हें शिक्षा का समान एवं समावेशी अवसर प्रदान करने के लिये मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने शिक्षा से जुड़े विभिन्न घटकों के साथ विचार विमर्श किया था ताकि ऐसे बच्चों की मदद के लिये कार्य योजना तैयार की जा सके। मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने नि:शक्त बच्चों पर विशेष ध्यान दिये जाने के मद्देनजर 1 दिसंबर को एक कार्यशाला का आयोजन किया था। जिसमें शिक्षा से जुड़े विभिन्न पक्षकारों ने हिस्सा लिया, ताकि ऐसे बच्चों की मदद की जा सके।

About Samar Saleel

Check Also

INX मामले में कभी भी हो सकती है चिदंबरम की गिरफ्तारी, नहीं मिली अग्रिम जमानत

पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम को दिल्ली हाईकोर्ट से बड़ा झटका लगा है। हाईकोर्ट ने ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *