हत्या के विरोध में कैंडिल मार्च, न्याय की मांग

फतेहपुर। देश के चौथे स्तंभ पर लगातार हो रहे हमलों को लेकर कड़े नियमों को बनाकर सुरक्षा देने की जरूरत है। पिछले दिनों कई पत्रकारों पर हमले कर उनको मौत के घाट उतारा गया। ​इसी कड़ी में कानपुर में मारे गये पत्रकार नवीन गुप्ता की हत्या के विरोध में फतेहपुर जिले के विकासखंड अमौली के पत्रकार साथियों के आवाहन पर समस्त पत्रकारों, छायाकारों तथा आम जनमानस ने विरोध करते हुए कैंडल मार्च निकाला। आक्रोश से भरे पत्रकारों एवं आम जनमानस ने केवल एक ही आवाज़ को बुलंद करते हुए कहा कि एक सप्ताह बीत जाने के पश्चात भी नवीन गुप्ता के हत्यारों तक पुलिस अभी तक क्यों नहीं पहुंची? हत्यारों को तुरंत गिरफ्तार करते हुए न्याय किया जाये। इसके साथ बलिदानी पत्रकार के असहाय परिवार को तुरंत मुआवजा प्रदान किया जाए। समस्त पत्रकारों ने कैंडल मार्च से पूर्व खंड विकास अधिकारी अमौली ज्ञान सिंह परिहार को मुख्यमंत्री को संबोधित 4 सूत्रीय ज्ञापन सौंपा। इसके पश्चात विकासखंड मुख्यालय से कैंडल मार्च की शुरुआत दिवंगत पत्रकार को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए की। इसके बाद “नवीन हम शर्मिंदा हैं, तुम्हारे कातिल जिंदा है।”, “सारा देश खड़ा गमगीन, बलिदानों पर तेरे नवीन।” और “हम सबकी बस यही पुकार, हत्यारे हो तुरंत गिरफ्तार।” जैसे नारे लगाये गये। इसके साथ लोगों ने कहा कि हत्यारे यह अब ले जान, व्यर्थ नहीं होगा बलिदान।” के भावुक नारों से अमौली की गलियां गूंज उठी। मार्च विकासखंड मुख्यालय से खजुहा तिराहे, बस स्टॉप, मंडी समिति, पटेल नगर, पुरानी बाजार, लंका रोड, दलित बस्ती से होकर पुनः विकासखंड मुख्यालय पर पहुंचा। जहां पर शांति पाठ कर कार्यक्रम का समापन हुआ। कार्यक्रम में मुख्य रुप से कमलेश तिवारी, शील चंद्र आर्य, विमलेश त्रिवेदी, डा0जितेंद्र तिवारी, संतोष सचान, विवेक कुमार त्रिपाठी, प्रकाश वीर आर्य, विवेक उमराव, विकाश मिश्रा, विमलेश तिवारी, शैलेन्द्र दुबे आदि पत्रकारों के साथ सामाजिक संगठनों से रवि ओमर, रितेश कुमार पांडेय, मुकेश ओमर, सतीश वर्मा, ग्राम प्रधानपति एवं समाजसेवी बंटू सोनकर, अम्बिका अग्निहोत्री, संजय अग्निहोत्री के साथ सैकड़ों लोग उपस्थित रहे।
रिपोर्ट – डॉक्टर जितेंद्र तिवारी

About Samar Saleel

Check Also

प.बंगाल: श्रद्धालुओं पर गिरी मंदिर की दीवार, 4 की मौत, CM ने किया मुआवजे का ऐलान

पश्चिम बंगाल में कृष्ण जन्माष्टमी के दिन मंदिर में बड़ा हादसा हो गया है, यहां ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *