बार्डर पर पकड़ा गया पाकिस्तान ​का जासूसी बाज

भारत-पाकिस्तान सीमा पर अक्‍सर सीमा पार से जासूस पक्षी आते हैं। ये पर‍िंदे सामान्‍य लगते हैं लेकि‍न हकीकत में ये बड़े ही शाति‍र होते हैं। हाल ही में सीमा पर एक पाकिस्तानी बाज पकड़ा गया है और इसका ऑपरेशन क‍िया गया। बाज में जो आइटम म‍िले हैं उन्‍हें सुनकर आप हैरान हो जाएंगे। हालांक‍ि यह कोई पहली बार नहीं है। इसके पहले भी कई बार इन पक्षियों को जासूसी करते पकड़ा जा चुका है।

च‍िप की होगी जांच
भारत-पाकिस्तान सीमा पर पाकिस्तानी बाज पकड़ा गया। इसके बाद इस बाज को राजस्थान के बीकानेर स्थित जन्तुआलय में लाया गया था। यह बाज देखने में काफी संद‍िग्‍ध लग रहा हैं, क्‍योंकि‍ इस बाज की पूंछ पर एक एंटीना और साथ ही पैरों में छल्ले लगे थे। इन पर UAE ल‍िखे होने के साथ दो मोबाइल नंबर भी लिखे हुए थे। ऐसे में सुरक्षा एजेंसियों ने जब बाज का एक्स-रे करवाया तो उसमें हैरान करने वाली चीजें न‍िकली। उसके शरीर के अंदर माइक्रो चिप होने की बात सामने आई। इसके बाद अब उस बाज का ऑपरेशन कराकर उसकी माइक्रो चिप बाहर न‍िकाली गई। अब इस च‍िप को सील बंद करके जांच के लिए जयपुर भेजा जायेगा। पकड़े गये कबूतर की जांच की गई तो कबूतर पर एक व‍िशेष तरह की नंबरिंग की गई थी। ये नंबर उसके पंखों के नीचे ल‍िखे थे।
पुलिस ने पीएम को धमकी देने वाले पकड़ा था कबूतर
पिछले साल 2016 में पंजाब पुलिस ने पाकिस्तान से सटी सीमा के पास से एक कबूतर को पकड़ा था।

कबूतर के पंजों में पीएम नरेंद्र मोदी को धमकी देने का संदेश ले लेकर आया था। संदेश में उर्दू भाषा में लिखा था कि मोदी, हम 1971 वाले लोग नहीं हैं। अब बच्चा—बच्चा भारत के खिलाफ लड़ने के लिए तैयार है। वहीं इस मामले में पंजाब पुलिस का कहना था क‍ि सीमा सुरक्षा बल के अधिकारियों को यह कबूतर पठानकोट में उस जगह द‍िखा था। पाकिस्तानी आतंकवादियों ने एयरफोर्स बेस पर हमला किया था, जिसके बाद से पुलिस ने उसकी तलाश में जुट गई थी।

एंटीना वाला सीमा सुरक्षा बल ने पकड़ा था बाज

सीमा सुरक्षा बल ने भी पिछले वर्ष अक्‍टूबर में बीकानेर से जुड़ी अंतरराष्ट्रीय सीमा के निकट अनूपगढ़ क्षेत्र में एक पाकिस्तानी ट्रेंड बाज पकड़ा था। पकड़ा गया बाज भी घायल था। हालांक‍ि इस बाज पर किसी प्रकार का ट्रांसमीटर एंटीना आद‍ि नहीं लगा था, लेक‍िन एक कपड़े की टेग नुमा लीरी बंधी होने से यह संद‍िग्‍ध लग रहा था। ऐसे में सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने इसे अनूपगढ़ के वन विभाग को सुपुर्द कर दिया गया था। इसके पहले भी कई बाद यहां पर जासूस बाज पकड़े जा चुके हैं।

 

About Samar Saleel

Check Also

वीवीआईपी हेलीकॉप्टर डील केस में आरोपी को इस वजह तीन हफ्ते का मिला समय

हाईकोर्ट ने वीवीआईपी हेलीकॉप्टर डील केस में आरोपी बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल जेम्म को तिहाड़ कारागार ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *