शबरी संकल्प अभियान के लिए प्रशिक्षण का आयोजन

एटा। शबरी संकल्प अभियान को सफल बनाने के लिए रविवार को कलक्ट्रेट सभागार में एक दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन किया गया। जिलाधिकारी अमित किशोर ने प्रशिक्षण कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए कहा कि कुपोषण के परिदृश्य के दृष्टिगत विभिन्न विभागीय कार्यक्रमों में कन्वर्जेंंस स्थापित करते हुए प्रदेश सरकार की ओर से कुपोषण की रोकथाम के लिए शबरी संकल्प अभियान संचालित करने का निर्णय लिया गया है। इस अभियान के अन्तर्गत जहां एक ओर लाभार्थियों को सेवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित कराई जाएगी। वहीं विभाग के आधारभूत आधारभूत ढांचे एवं अनुश्रवण व्यवस्था को भी सुदृढ़ीकृत किया जाएगा। यह अभियान विभिन्न स्तरों पर कन्वर्जेंस माॅडल के माध्यम से कार्य करेगा। जिलाधिकारी अमित किशोर ने कहा कि शबरी अभियान का उद्देश्य शबरी कार्ययोजना के अन्तर्गत प्रथम चरण में कुपोषण की व्यापकता के आधार पर प्रदेश के 39 जनपदों में शबरी कार्य योजना लागू करते हुए जनपद में 0 से 3 वर्ष तक के बच्चों में कुपोषण की दर में दिसम्बर 2018 तक 2 प्रतिशत की कमी लाना है। जनपदीय अधिकारियों की ओर से कम से कम दो-दो ग्राम को गोद लेते हुए उस गांव को 6 माह की अवधि में कुपोषण मुक्त बनाना है। मेगा काॅल सेंटर के माध्यम से वीएचएनडी सत्रों में एएनएम, ग्राम प्रधानों का काॅल करते हुए वीएचएनडी सेवाओं का आउटकम आधारित बनाना है। डीएम ने कहा कि शबरी कार्ययोजना के अन्तर्गत जनपद में स्वास्थ्य विभाग, आईसीडीएस विभाग, पंचायतीराज, ग्राम्य विकास, खाद्य विभाग आदि की ओर से कुपोषण की रोकथाम के लिए सहयोग प्रदान किया जाएगा। इस अभियान में किसी भी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। संबंधित विभागीय कर्मचारियों की ओर से अपने-अपने विभाग से संबंधित सेवाएं आमजनमानस को प्रदान की जाये। प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान सीडीओ उग्रसेन पाण्डेय, डीपीओ सत्यप्रकाश पाण्डेय, डीएसओ उमेश मिश्रा के साथ सभी पूर्ति निरीक्षक, बीपीएम, बीसीपीएम, ग्राम पंचायत अधिकारी सहित स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी मौजूद रहे।

About Samar Saleel

Check Also

बेहतर पुलिसिंग से क्राइम को कंट्रोल किया जायेगा: एसपी स्वप्निल

रायबरेली। नवागत पुलिस अधीक्षक स्वप्निल ममगैन ने शुक्रवार की शाम कार्यभार ग्रहण कर लिया है। ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *