Ideology के आधार पर वोटो का ध्रुवीकरण : अखिलेश

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि पांच राज्यों के चुनावों में विचारधारा Ideology के आधार पर वोटो का ध्रुवीकरण हुआ है। जनता ने जता दिया है कि सांप्रदायिकता और विभाजनकारी ताकतों के लिए कोई जगह नहीं है। अहंकार और फरेब की राजनीति चलने वाली नहीं है। देश के गरीबो, नौजवानो, किसानों और कमजोर वर्ग के लोगो की उपेक्षा के परिणाम अच्छे नहीं होते है।

अखिलेश ने कहा कि Ideology

अखिलेश ने कहा कि Ideology विचारधारा के आधार पर वोटो का ध्रुवीकरण करते हुए जनता ने बदलाव किया है। आजादी की लड़ाई के समय जो मूल्य स्थापित हुए थे वे आज की राजनीति में भी मानक हैं। उनका तिरस्कार करने वालों की जिंदगी ज्यादा नहीं हो सकती है। भारत सामाजिक सद््भाव और परस्पर सौहार्द की आधारशिला पर टिका है। संवैधानिक मर्यादाओं से खिलवाड़ और नफरत की राजनीति करने की साजिशें जनता की निगाह से छुपी रहने वाली नहीं है।

विडंबना है कि भाजपा नेतृत्व दो तरह की बातें कर रहा है। वह अपने कार्यकर्ताओं को भी बहकाने में लगा है। अपनी हार से कोई सबक सीखने के बजाय उल्टे हार से निराश न होने और 2019 के चुनाव की बात कर रहा है। लोकतंत्र में जनादेश को सम्मानजनक तरीके से बिना किसी लागलपेट के पूरी ईमानदारी से स्वीकार करना चाहिए। किन्तु भाजपा लगता है अपनी जनविरोधी नीतियों में बदलाव नहीं लाना चाहती हैं। जन समस्याओं से मुंह फेरने का नतीजा उसके सामने है। फिर भी भाजपा हठी रूख रहता हैं तो लोकतंत्र की व्यवस्था के सामने नई चुनौतियां खड़ी हो सकती है।

नोटबंदी और जीएसटी से आर्थिक संकट गहराया है। व्यापार चैपट हुआ है और बेरोजगारी बढ़ी है। इसकी स्वीकारोक्ति को भाजपा नेतृत्व अब भी तैयार नही है और बहकी-बहकी बातें कर रहा हैं। जो 5 वर्ष भाजपा ने बर्बाद किए हैं उसको लेकर भी उसमें अपराध बोध न होना आश्चर्यजनक है। भाजपा की आर्थिक-सामाजिक नीतियों से देश को बहुत नुकसान हुआ है, यह मानने को इसके नेता अभी भी तैयार नही है।

 

About Samar Saleel

Check Also

पूर्व प्रधान की गोली मार कर हत्या

बागपत। जिले के धनौरा सिल्वरनगर गांव में बाइक सवार तीन हथियारबंद बदमाशों ने एक पूर्व ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *