भारतीय साहित्यिक विकास मंच द्वारा आयोजित काव्य गोष्ठी सम्पन्न

नई दिल्ली। शनिवार को दिल्ली स्थित हिंदी भवन में ‘भारतीय साहित्यिक विकास मंच’ द्वारा काव्य-संध्या का आयोजन जनाब सीमाब सुल्तानपुरी की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। काव्य-संध्या में मुख्य अतिथि रहे प्रमोद शर्मा ‘असर’ और विशिष्ट अतिथि के रूप में आचार्य मायाराम पतंग ,साहित्यकार रामकिशोर उपाध्याय ,शायर तरुणा मिश्रा एवं राम अवतार बैरवा का सानिध्य मिला।

इस मौके पर उपस्थित सभी गणमान्य अतिथियों द्वारा सबसे पहले माँ शारदे की प्रतिमा के सम्मुख दीप प्रज्ज्वलित एवं पुष्प अर्पित करने के उपरांत कवियत्री माधुरी स्वर्णकार ने अपनी मधुर वाणी से सरस्वती वंदना की।कार्यक्रम की शुरुआत मंच अध्यक्ष गुरचरन मेहता ‘रजत’, उपाध्यक्ष फ़ैज़ बदायुनी साहब, महासचिव ममता लड़ीवाल, कोषाध्यक्ष माधुरी स्वर्णकार, संयुक्त सचिव जगदीश मीणा और मीडिया प्रभारी संजय गिरि द्वारा अतिथियों का स्वागत एवं सम्मान से हुआ।

भारतीय साहित्यिक विकास मंच

जनाब सीमाब सुल्तानपुरी साहेब की ग़ज़लों ने

काव्य- गोष्ठी में कवियों द्वारा बहुत ही उम्दा ग़ज़ल एवं कविताओं का मधुर पाठ हुआ। जनाब सीमाब सुल्तानपुरी साहेब की ग़ज़लों ने गोष्ठी को शिखर पर पहुंचाया। युवा कवि एवं साहित्यकार डा. मनोज कामदेव ने बहुत शानदार दोहा पाठ किया। डॉ. मनोज कामदेव ,सूक्ष्मलता महाजन, ए.एस. अली खान, राजेन्द्र महाजन, मनीष मधुकर, अनिमेष शर्मा, मनोज बेताब, यशपाल सिंह ‘कपूर’, तीरथराज यादव, अंजुम ज़ाफ़री का भी सम्मान मंच द्वारा पटका एवं पुष्पमाला पहना कर किया गया। कार्यक्रम के दौरान ही माधुरी जी के काव्य संग्रह ‘उद्गम से संगम तक’ का विमोचन भी हुआ। इसके साथ ही ‘एक्शन इंडिया’ पत्रिका का विमोचन भी हुआ। इस अवसर पर चित्रकार एवं कवि संजय कुमार गिरि ने गुरचरन मेहता का ख़ूबसूरत स्केच बना कर उन्हें भेंट किया।

5 कवि एवं कवियत्रियों ने बेहद शानदार काव्य पाठ

कार्यक्रम दिल्ली और उसके आसपास के इलाकों से उपस्थित करीब 35 कवि एवं कवियत्रियों ने बेहद शानदार काव्य पाठ किया। जिनमें प्रमुख रूप से भूपेंद्र राघव, सुमित अग्रवाल, गोपाल गुप्ता, सोनू शर्मा ‘भानू’, बबली वशिष्ठ, रोहिताश्व मिश्र, अनहद ‘गुँजन’ अग्रवाल, चेतना कपूर, सुंदर सिंह, राम लोच , अख़्तर गोरखपुरी, आशीष सिन्हा ‘क़ासिद’, डॉ. मोहम्मद शाहिद, वसुधा कनुप्रिया, संजीव सक्सेना, सुशील शैली, उदय प्रताप द्विवेदी, भूपिंदर कौर, सलीम सुहानवी ने काव्य पाठ कर कार्यक्रम में चार चांद लगा दिए।

काव्या राघव ने मनमोहक प्रस्तुति से सभी का दिल

राघव की सुपुत्री काव्या राघव ने भी अपनी मनमोहक प्रस्तुति से सभी का दिल जीत लिया। जितेंद्र प्रीतम, दीपक भारतवासी, जावेद अब्बासी, विनीता मेहता, रंजना, सरोज सिंह, पवन कुमार तोमर सहित कई रचनाकारों ने कार्यक्रम में शिरकत कर इसकी शोभा बढ़ाई।कार्यक्रम का संचालन कवियत्री ममता लड़ीवाल ने बहुत ही ख़ूबसूरती के साथ किया जिसमें उनका साथ संस्था अध्यक्ष गुरचरन मेहता ‘रजत’ ने दिया।

_संजय कुमार गिरि

About Samar Saleel

Check Also

बाज़ार जैसे कपकेक को घर पर बनाने के लिये देखे यह सरल रेसिपी

आप सभी ने कपकेक खाया होगा, यह केक हर किसी को बेहद पसंद होता है. वैसे ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *