Breaking News

सीएम योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर में कलश स्थापना कर की मां शैलपुत्री की उपासना

गोरखपुर। शारदीय नवरात्र की प्रतिपदा को गोरखनाथ मंदिर में गोरक्षपीठाधीश्वर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने आवास के प्रथम तल पर शक्तिपीठ में गुरुवार की शाम वैदिक मंत्रोच्चार के बीच मां भगवती की उपासना के लिए कलश स्थापना की। दो घंटे तक चला अनुष्ठान प्रथम देवी मां शैलपुत्री की आराधना, आरती और क्षमा प्रार्थना के साथ संपन्न हुआ।

इसके पूर्व गोरखनाथ मंदिर में गोरक्षपीठाधीश्वर की अनुमति के बाद परम्परागत रूप से भव्य शोभायात्रा निकली शस्त्रों को गोरक्षपीठाधीश्वर ने साधु-सन्त एवं संस्कृत विद्यापीठ के छात्रो को दिया। इसके बाद एक शोभा यात्रा मठ के प्रधान पुजारी योगी कमलनाथ के नेतृत्व में शंख, घंट-घड़ियाल एवं नागफनी (वाद्य-यंत्र) के साथ भीम सरोवर की परिक्रमा की तथा सरोवर मेे अस्त्र शस्त्रों को स्नान कराया गया एवं कलश में जल भरे। तत्पश्चात पुनः अस्त्र-शस्त्रों को दुर्गा मन्दिर मे पूज्य महन्त योगी आदित्यनाथ महाराज जी द्वारा स्थापित किया गया।

आज प्रतिपदा के दिन मां शैलपुत्री की पूजा हुई। पूजा मे गोरक्षपीठाधीश्वर ने सभी देव विग्रहो का षोडशोपचार पूजन के साथ श्रीदुर्गा सप्तशती एवं देवी पुराण का पाठ मठ पुरोहित पं. रामानुज त्रिपाठी जी के नेतृत्व 11 पंडितों द्वारा सम्पन्न हुआ। उसके बाद आरती सम्पन हुई। आरती के पश्चात् प्रसाद वितरित हुआ।

इस दौरान द्वारिका तिवारी, डाॅ. अरविन्द चतुर्वेदी, डाॅ. रोहित मिश्र, डाॅ. दिग्विजय शुक्ल, पुरूषोत्तम चैबे, अरूणेश शाही, जवाहर कसौधन, लाला अग्रवाल, दुर्गेश बजाज, डॉ. गौरी शंकर, बृजेश मणि मिश्र, नित्यानन्द त्रिपाठी, शशि कुमार, शुभम मिश्रा, शशांक पाण्डेय आदि उपस्थित रहें। सभी कार्यक्रम कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए सम्पन्न कराया गया।

रिपोर्ट-रंजीत जायसवाल

About Samar Saleel

Check Also

पीएम भारत को विकास में नहीं बल्कि भुखमरी में अव्वल बना रहे हैं: लोकदल

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें लखनऊ। लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुनील सिंह ने ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *