पत्नी ने करायी पति की हत्या,प्रेमी गिरफ्तार

गोरखपुर. जनपद के कैंट थाना क्षेत्र के महादेव झारखंडी टुकड़ा नम्बर एक विशुनपुरवा निवासी विवेक प्रताप सिंह(35)उर्फ विक्की सिंह की उसकी पत्नी के प्रेमी ने रविवार की रात सोते समय ईंट से कूच कर हत्या कर दी। हत्या में विक्की की पत्नी भी अपने प्रेमी संग शामिल थी। लाश को ठिकाने लगाने ले जाते समय हत्यारे गश्त पर निकली पुलिस की गिरफ्त में आ गये। पुलिस मृतक की पत्नी सुषमा सिंह को हिरासत में लेकर पूंछतांछ कर रही है।

विशुनपुरवा निवासी विवेक की शादी वर्ष 2011 मे देवरिया के गौरीबाजार थाना क्षेत्र के पथरहट की सुषमा सिंह से हुई थी। दोनो का एक पांच साल का बेटा आयुष भी है। सुषमा का अपने मायके के ही कामेश्वर सिंह उर्फ डब्लू सिंह पुत्र दीपनारायण सिंह से शादी के पहले से ही प्रेम प्रपंच चल रहा था।

माना जा रहा है कि इस बात की जानकारी विक्की को हो गई थी,जिसके बाद सुृषमा ने अपने प्रेमी से अपने पति की हत्या करवा दी। सुषमा के मुताबिक प्रेमी डब्लू सिंह अपने चार अन्य साथियो के साथ रात करीब 12 बजे सफेद रंग की चार पहिया गाड़ी एमयूवी(UP52AK5330) से गोरखपुर पहुंचा और गाड़ी को झारखंडी शिवमंदिर के पास खड़ी कर तीनों साथियों के साथ सुषमा के घर चला गया।

सुषमा ने पहले से ही दरवाजा खोलकर रखा गया था,रात करीब एक बजे डब्लू अपने साथी राधेश्याम मौर्य के साथ ऊपर चला गया और पहले से खुले विक्की के बेडरूम मे पहुंच गया। विक्की गहरी नींद मे सो रहा था डब्लू व राधेश्याम ने विक्की के मुंह मे कपड़ा ठूंस दिया और ईंट से कूचकर उसकी हत्या कर दी।

पुलिस के पहुंचने पर परिजन को हुई जानकारी

पुलिस के पहुंचने पर घरवालो को विवेक की हत्या की जानकारी हुई। इस्पेक्टर कैंट ओम हरि बाजपेयी ने बताया कि सुषमा का डब्लू नामक युवक से काफी पहले से प्रेम संबंध था। शादी के बाद भी उनका संबंध बना रहा,फोन पर उनकी बातचीत होती थी सुषमा के बुलाने पर ही उसने देस्तो संग वारदात को अंजाम दिया।

बेटे के सामने हुआ पिता का कत्ल

डब्लू के पहुंचने पर सुषमा दरवाजा खोलने के लिए कमरे से निकली तो बेटा आयुष भी जाग गया। कमरे में दाखिल हुए बाहरी लोगो को देखकर उसने शोर मचाने की कोशिश की तो सुषमा ने चुप करा दिया। पुलिस को उसने बताया कि गला दबा कर पापा को मारने के बाद उनके सिर पर ईंट से हमला किया गया।

याद आई अशोकनगर की घटना

विशुनपुरवा की घटना जिसने भी सुनी उसके जेहन में डा0 ओमप्रकाश यादव व उनके पांच साल के मासूम बेटे की हत्या की याद आ गई। 20 जनवरी 2015 की रात मे डा0 ओमप्रकाश की पत्नी ने भी अपने प्रेमी अजय यादव के साथ मिलकर घर में डा0 ओमप्रकाश की हत्या कर दी थी।पांच साल के बेटे के जागने पर उसकी भी गला दबाकर हत्या कर दी गई थी।

रिपोर्ट: रंजीत जयसवाल

About Samar Saleel

Check Also

ढाका में निकाली गई 400 साल पुरानी भव्य रथ यात्रा, पूरे जुलाई भर चलेगा मेला

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें Published by- @MrAnshulGaurav Tuesday, July 05, 2022 नई दिल्ली। ...