Breaking News

CM yogi के समाजवाद के बयान पर सियासी घमासान

लखनऊ। यूपी के CM yogi आदित्यनाथ ने एक बार समाजवादी पार्टी के समाजवादी शब्द को लेकर बड़ा बयान दिया है। उनके इस बयान से सियासी घमासान मचा हुआ है। वहीं सीएम योगी आदित्यनाथ ने इसे बहरूपिया ब्रांड तक कह डाला है। बुधवार को विधान परिषद् में संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि समाजवादी अब बहरुपिया ब्रांड बनकर रह गया है। समाजवाद अब समाप्तवाद हो रहा है।

सपा पर CM yogi ने बोला बड़ा हमला

विधान परिषद् में CM yogi ने सपा पर बड़ा हमला बोला उन्होंने आगे बोलते हुए कहा कि उन्हें समाजवाद की परिभाषा सपा से नहीं सीखनी है और ये देश समाजवाद नहीं, राष्ट्रवाद चाहता है। बता दें कि सीएम का ये बयान सपा के उस बयान के पख्पलटवार में है जिसमें सीएम को समाजवाद का विरोधी कहा गया था।

समाजवाद शब्द संविधान में कब आया
अपने संबोधन के दौरान सीएम योगी ने सपा के नेताओं से पूछा कि आप बताएं समाजवाद शब्द संविधान में कब आया। उनके इस बयान का सदन में नेता प्रतिपक्ष अहमद हसन ने कड़ा विरोध जताया गया। हसन ने कहा कि समाजवाद, संविधान की सच्चाई है। मुख्यमंत्री अपने शब्द वापस लें। इसी को लेकर सपा के सारे सदस्यों ने विधान परिषद में खूब हंगामा किया।
वहीं बजट पर बोलते हुए सीएम योगी ने कहा कि बजट को लेकर विपक्ष के आरोप वास्तविकता से परे हैं। उन्होंने कहा हमारे एक साल के शासन काल में किसी किसान ने आत्महत्या नहीं की, जबकि सपा शासन में ऐसे कई मामले आए।

Loading...

शून्य काल के दौरान सपा सदस्य
वहीं, विधान परिषद में शून्य काल के दौरान सपा सदस्य राजपाल कश्यप ने पिछड़ों तथा दलितों के आरक्षण का मुद्दा हुए कहा कि अनुसूचित जाति, जनजाति तथा अन्य पिछड़ा वर्ग के 85 फीसदी लोगों को आरक्षण प्राप्त है लेकिन बीजेपी सरकार उसे पूरी तरह से खत्म करने की साजिश रच रही है। सभापति ने उन्हें अपने स्थान पर बैठने को कहा लेकिन वे नहीं माने। इस पर उन्होंने सदन की कार्यवाही 30 मिनट के लिए स्थगित कर दी।
बता दें कि सीएम योगी इससे पहले समाजवाद को आतंकवाद से जोड़ चुके हैं। जिसका सपा ने पुरजोर विरोध किया था। साथ ही सीएम के खिलाफ प्रदेश में सपा ने प्रदर्शन करते हुए माफी मांगने की बात कही थी।

 

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

हसीन जहां ने बाल कल्याण समिति में दर्ज कराया बयान

अमरोहा। टीम इंडिया के क्रिकेटर मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां ने बाल कल्याण समिति ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *