Breaking News

साहित्य/वीडियो

बाल कहानी : आकर्षक खिलौने 

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें अध्यापक ठाकुर जी कक्षा सातवीं में आए। बोले- बच्चों ! कल से दशहरे की छुट्टी हो रही है पाँच दिनों के लिए; यानी शुक्रवार तक। बच्चे खुश हो गए। ठाकुर जी फिर बोले- दशहरे की छुट्टी का आनंद लेने के साथ तुम सबको ...

Read More »

साहित्यकारों से ही समाज पोषित और विकसित होता है

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें किसी भी देश की प्रगति एवम विकास में उस देश के साहित्यकारों का महत्वपूर्ण योगदान होता है। साहित्य को समाज का दर्पण कहा जाता है और साहित्यकार समाज में चल रही घटनाओं और गतिविधियों को ज्यों का त्यों अपने साहित्य के माध्यम से ...

Read More »

बादल

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें बादल आंखों में घिरे हैं बादल सावन जैसे बरसे हैं। हरियाली उनके हिस्से में हम तो केवल तरसे है।। एक तरफ दलदल है कितना एक तरफ चट्टाने है। किसको मन की व्यथा बताएं ये सब तो बेगाने है।। मनमानी बह रही हवाएं कदम ...

Read More »

कान्हा तुम तो भूल गए

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें कान्हा तुम तो भूल गए कान्हा तुम तो भूल गए, देते नहीं हो ध्यान। सूना वृंदावन हुआ, नहीं वंशी की तान।। गऊएं हुई उदास है, गोपी सब बेहाल। सखा पुकारें रात दिन, अब तो आओ पास।। माखन मिश्री साथ में, नहीं रहा वह ...

Read More »

रक्षा बंधन: खुशियों वाला पर्व निराला

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें रक्षा बंधन: खुशियों वाला पर्व निराला रक्षा बंधन का पर्व निराला मस्ती मौज और खुशियों वाला भाई बहन के अमिट प्रेम को होता ये दर्शाने वाला कर्मवती ने भेजकर राखी हुमायूं को मजबूर किया भूल अंतर फिर जात पात का राजा ने दूर ...

Read More »

सुखी जीवन का मूल मंत्र : एक चुप सौ सुख

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें कहते हैं कि दुनिया में सबसे मुश्किल काम होता है चुप रहना। जी हां ,यह बात पढ़कर आपको हंसी तो जरूर आई होगी क्योंकि यह पंक्ति लिखते हुए मुझे भी हंसी आई थी ।परंतु यह बात सौ फ़ीसदी सत्य है यह आप भी ...

Read More »

मैं तुम्हें पढ़ नहीं पाती

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें मैं तुम्हें पढ़ नहीं पाती तुम एक खुली किताब से रहते हो, फिर भी मैं तुम्हें पढ़ नहीं पाती! कोशिश करती हूँ शब्दों में ढालने की, पर रचनाओं में तुम्हें गढ़ नहीं पाती!! तुम जितना पूछते हो, मैं उतना ही बताती हूँ। चाहकर ...

Read More »

परिवार नियोजन : देश और परिवार दोनों के लिए बहुत जरूरी

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें देश को अगर हर लिहाज़ में बेहतर बनाना है तो बढ़ती आबादी पर रोक लगानी होगी। सरकार ने परिवार नियोजन का जो स्लोगन रखा है छोटा परिवार सुखी परिवार वो बिलकुल सार्थक है। आज अधिक जनसंख्या कि दृष्टि से देखें तो भारत दूसरे ...

Read More »

जीवन की सार्थकता

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें अपने ग़म को हंसकर भुला देने का हुनर स्वयं हमारे पास ही होता है…ज़रूरत है तो बस आशावादी होकर नकारात्मकता को जड़ से मिटा डालने की। यकीन मानिए, आपकी, अपनी इच्छा शक्ति और दृढ़ निश्चय ही एक ऐसा रामबाण है जो कभी आपको ...

Read More »

करे कोई भरे कोई

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें बात पिछले साल 2020 फरवरी माह की है उस वक्त मेरे पास कक्षा 5 थी। अगले ही महीने मार्च 2020 में वार्षिक परीक्षाएं आयोजित होनी थी परंतु कोरोना महामारी के चलते वार्षिक परीक्षाओं से पहले ही सभी विद्यालय सरकार द्वारा बंद कर दिए ...

Read More »