Breaking News

वरिष्ठ पत्रकार व उनके परिजनों को दी जा रही धमकी, जिले के पत्रकार आक्रोशित

औरैया। जिले में करीब तीन दशक से पत्रकारिता कर रहे वरिष्ठ पत्रकार आनंद कुशवाहा व उनके परिजनों को दबंगों द्वारा दी जा रही धमकी से आक्रोशित जिले के पत्रकारों ने पुलिस अधीक्षक से दबंगों के विरुद्ध तत्काल कठोर कार्रवाई किये जाने की मांग की है।

जानकारी के अनुसार शहर के मोहल्ला ‌खिड़की‌ साहबराय निवासी पत्रकार कुशवाहा का अपने एक पड़ोसी सरदार से दीवाल संबधी‌ विवाद है जिसका एक लड़का जिले के एक अधिकारी की गाड़ी का प्राइवेट ड्राइवर है जो शाम को अराजकतत्वों को बुलाकर वरिष्ठ पत्रकार कुशवाहा व उनके परिजनों को गाली-गलौज करता है। जिसमें जिले में मादक पदार्थ बेचने वाले कुछ अराजक तत्व भी दबंग का साथ दे रहे हैं। आज देर रात्रि अराजकतत्वों द्वारा गाली-गलौज किये ‌जाने‌ पर पत्रकार कुशवाहा द्वारा अपनी व्यथा साथी‌ पत्रकारों को बतायी तो कुशवाहा के सहज सरल स्वभाव को देखते हुए उनके साथ दबंगों द्वारा किए जा रहे अभद्र व्यवहार को लेकर पत्रकारों में आक्रोश व्याप्त हो गया जिन्होंने पुलिस अधीक्षक समेत प्रेस से संबंधित ग्रुपों में अपना आक्रोश व्यक्त कर स्पष्ट कर दिया कि यदि दबंगों व उनके द्वारा बुलाये गये अराजकतत्वों के विरुद्ध तत्काल कठोर कार्रवाई न की‌ गयी‌ तो जिले के सभी पत्रकार आगे की रणनीति पर विचार कर सकते हैं।

जिला प्रेस क्लब के संरक्षक सुरेश मिश्रा ने कहा कि आनंद कुशवाहा दो दशक से अधिक समय तक दैनिक अमर उजाला व दैनिक हिंदुस्तान के ब्यूरो चीफ रहे हैं और वह बहुत ही सीधे व सरल पत्रकार हैं उनके ‌साथ किसी भी प्रकार की अभद्रता व अराजकता को बर्दाश्त नहीं किया जायेगा, वरिष्ठ साथी को धमकी देने वालों के खिलाफ तत्काल कठोर कार्रवाई कराने हेतु ‌एक‌ प्रतिनिधि मंडल पुलिस अधीक्षक से मिलेगा और किसी तरह की शिथिलता पर आगे ‌की रणनीति पर विचार किया जाएगा।
प्रेस क्लब के अध्यक्ष सुनील गुप्ता ने कहा कि देशी घी व लकड़ी की मंडी के नाम से एक दशक पूर्व तक सिर्फ उत्तर प्रदेश में ही नहीं बल्कि तमाम प्रदेशों में विख्यात रही औरैया इस समय अवैध कारोबार की मंडी बन चुकी है और अवैध कारोबारियों को पुलिस का खुलेआम संरक्षण प्राप्त है।

जिम्मेदार पुलिस अधिकारी अवैध कारोबारियों के साथ जहाँ घूमते-फिरते दिखाई देते हैं वहीं यह कारोबारी महत्वपूर्ण पुलिस चौकी में सबइंस्पेक्टर के साथ वार्तालाप करने के साथ ही चाय व नाश्ता करते नजर आते हैं। उन्होंने कहा कि आज हमारे गुरुदेव व औरैया जिले के वरिष्ठ पत्रकार के साथ जो दुर्व्यवहार हुआ है उसके लिए पुलिस ही जिम्मेदार है। अगले दिन से ऐसे पुलिस अधिकारियों व पुलिसकर्मियों के क्रियाकलापों का खुलासा किया जायेगा। अगर हम लोगों के संरक्षक के साथ इस तरह की पुनरावृत्ति हुई तो हम लोग सम्मान की खातिर काफी हद तक जाने को तैयार रहेंगे।

आक्रोश व्यक्त करने वालों में गौरव श्रीवास्तव, हिमांशु गुप्ता, राघवेन्द्र प्रताप सिंह गौर, हरगोविंद सिंह सेंगर, आरिफ खान, प्रशान्त गुप्ता, गौरव चतुर्वेदी, सुभाष रंजन दुबे, चन्द्रशेखर यादव, कौशलेंद्र पोरवाल शंकर, आशीष सविता, संजय सेंगर जुबली, प्रदीप कुमार, अमित चतुर्वेदी, अरविन्द पाण्डेय, सौरभ पोरवाल, आशीष भदौरिया, संदीप राठौर, अरूण सक्सेना, शिव प्रताप सिंह सेंगर आदि दर्जनों पत्रकार शामिल हैं।

रिपोर्ट-शिव प्रताप सिंह सेंगर

About Samar Saleel

Check Also

महिला कर्मचारी से हुई अभद्रता को लेकर कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें सतांव/रायबरेली। बुधवार की शाम सतांव ब्लाक कार्यालय परिसर ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *