Breaking News

राम राज्य की ओर जाता है समाजवाद का रास्ता: अखिलेश

● यूपी के देंगे 300 युनिट फ्री बिजली

● भाजपा को हटाने का वादा पूरा करेंगे 2022 के चुनाव में: राजभर

लखनऊ। सपा अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सोमवार को कहा कि समाजवाद का रास्ता ही असल में रामराज्य का मार्ग है। यादव ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि भाजपा अक्सर रामराज्य की बात करती है लेकिन असल में समाजवाद का रास्ता ही रामराज्य का रास्ता है। उन्होंने कहा, समाजवाद का रास्ता ही रामराज्य का रास्ता है। जिस दिन पूरी तरह से समाजवाद लागू हो जाएगा उसी दिन से रामराज्य शुरू हो जाएगा।

सपा मुख्यालय पर बुलाई गई प्रेस कॉन्फ्रेंस में पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा के लोग केवल जुमलेबाजी करते हैं और झूठ बोलते हैं। इस बार हम झूठ बोलने वालों को हटाने का काम करेंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा ने अपनी उपलब्धियां गिनाने के लिए झूठे विज्ञापनों पर करोड़ों रुपये खर्च किए हैं। अखिलेश ने तंज कसते हुए कहा कि अनउपयोगी बाबा ने लाखों लोगों को रोजगार देने का झूठा प्रचार किया है, योगी जी ने पिछले पांच सालों में वास्तविकता की धरातल पर कुछ भी काम नहीं किया है। एक सवाल के जवाब में उन्होने कहा कि हमसे पूछा जाता है की सरकार बनने के बाद प्रदेश के सभी घरेलू उपभोक्ताओं को 300 युनिट फ्री बिजली कहां से देंगे तो उन्हें बताना चाहूंगा कि नेता जी के शासनकाल में प्रयाप्त बिजली उत्पादन की रूपरेखा बना ली गई थी। इसके अलावा समाजवादी पार्टी के पिछले शासन काल में इस पर काम भी शुरू कर दिया गया था। शाहजहाँ पुर के रोजा, झांसी अनपरा, परीक्षा में पावर प्लांट लगाये जाने की योजना बनाई गई थी, उस समय कुछ लोगों ने इसका विरोध भी किया था। किन्तु नई सरकार ने सपा द्वारा शुरू किये गये आत्मनिर्भर बिजली उत्पादन की दिशा में कोई काम नहीं किया।

उन्होंने आश्वासन दिया कि सरकार बनते ही घरेलू उपभोक्ताओं को 300 युनिट फ्री बिजली देने के साथ ही किसानों के सिंचाई का बिल भी माफ किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सपा सरकार ने हरदुआ गंज पनकी में सोलर प्लांट को बढ़ाने का काम किया था। मिर्जापुर, महोबा, झांसी, ललितपुर, टांडा में भी सोलर प्लांट लगाए जाने की योजना थी। सपा मुखिया ने कहा कि हमारे पास फ्री बिजली देने की योजनाएं हैं, हमें विश्वास है कि हम फ्री बिजली देने का वादा पूरा कर सकेंगे। सपा अध्यक्ष ने किसान आंदोलन में जान गंवाने वाले किसानों के परिजनों को 25 लाख रुपये की सहायता राशि देने और शहीद किसानों का स्मारक बनाये जाने का भी आश्वासन दिया। एक सवाल के जवाब में उन्होने कहा कि समाजवाद ही असली राम राज्य है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के विधानसभा चुनाव लड़ने के ऐलान के बाद समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने रविवार को कहा कि पार्टी यदि चाहेगी तो वे भी चुनाव लड़ेंगे। अगर हमारे लोग और समाजवादी पार्टी चाहेगी तो इस बार भी हम चुनाव लड़ेंगे।’ कहां से चुनाव लड़ेंगे? इस पर अखिलेश ने कहा कि ‘यह पार्टी तय करेगी कि मैं कहां से चुनाव लड़ूंगा।’ बता दें कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव वर्तमान में आजमगढ़ सीट से सांसद हैं। वर्ष 2012 में जब अखिलेश के नेतृत्व में समाजवादी पार्टी की सरकार बनी थी तब भी वे विधान परिषद के सदस्य बने थे।

अखिलेश यादव से पहले ओमप्रकाश राजभर ने पत्रकारों से कहा कि यूपी की जनता भाजपा सरकार से परेशान है। हम भाजपा को हटाने के लिए सपा के साथ मिलकर काम करेंगे। उन्होंने कहा कि सपा को गुंडों की पार्टी बताने वाली भाजपा में तमाम दंगाई और गुंडे हैं। अखिलेश यादव के साथ ओमप्रकाश राजभर भी प्रेसवार्ता वार्ता में मौजूद थे। उन्होंने कहा कि मैंने तीन साल पहले ही कहा था भाजपा को हटाएंगे। भावी मुख्यमंत्री बगल में है सरकार के बनने पर भी साथ बैठेंगे। 2022 के शपथ समारोह में फिर याद दिलाऊंगा की मैंने भाजपा को हटाने की बात की थी।

इस मौके पर आंबेडकर नगर से पूर्व बसपा सांसद राकेश पांडेय, बहराइच से भाजपा की मौजूदा विधायक माधुरी वर्मा, पूर्व विधान परिषद सदस्य कांति सिंह, प्रतापगढ़ से पूर्व विधायक बृजेश मिश्रा और विशाल जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीरबल सिंह कश्यप अपने समर्थकों के साथ सपा में शामिल हो गए। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इन सभी नेताओं का पार्टी में स्वागत करते हुए कहा कि अब उन्हें पूरा भरोसा है कि आने वाले समय में उत्तर प्रदेश में बदलाव आएगा और सपा की सरकार बनेगी।

  दया शंकर चौधरी

About Samar Saleel

Check Also

डिजिटल प्रचार के ज़रिए युवाओं तक पहुंच बनाएगा रालोद, भाजपा के झूठे वादों का पर्दाफ़ाश करेगा युवा रालोद

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें लखनऊ। जब से चुनावी रैलियो पर चुनाव आयोग ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *