Breaking News

हमलावर को दबोचने वाले जवानों का सीएम योगी ने बढ़ाया हौसला

● मेडिकल कॉलेज के ट्रामा सेंटर पहुंचकर घायल जवानों से की मुलाकात, साहस और पराक्रम की सराहना की

● पांच लाख रुपये इनाम देने की पहले ही घोषणा कर चुके हैं मुख्यमंत्री

● रविवार देर शाम धारदार हथियार लेकर गोरखनाथ मंदिर में जबरन घुसने के आरोपी को दबोचने का मामला

गोरखपुर। गोरखनाथ मंदिर के मेन गेट पर रविवार शाम धारदार हथियार लेकन जबरन घुसने की कोशिश करने वाले आरोपी को दबोचने में अपनी जान की परवाह न करने वाले जवानों का हौसला बढ़ाने सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ सोमवार शाम खुद गोरखपुर आ गए।

उन्होंने हमलावर अहमद मुर्तजा अब्बासी को दबोचने के दौरान घायल और इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज में भर्ती पीएसी के दो जवानों गोपाल गौड़ और अनिल पासवान से उनके पास जाकर मुलाकात की। उनके साहस और पराक्रम की मुक्तकंठ से सराहना की। आश्वस्त किया कि उनके इलाज की सारी जिम्मेदारी सरकार उठाएगी। पीएसी के इन आरक्षियों और नागरिक पुलिस के आरक्षी अनुराग राजपूत के लिए पांच लाख रुपये इनाम की घोषणा मुख्यमंत्री ने सोमवार दोपहर में ही कर दी थी।

रविवार देर शाम हुई घटना के बाद से ही मुख्यमंत्री लगातार स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। इसी क्रम में उन्होंने बडी वारदात को नाकाम करने में घायल हुए पीएसी के जवानों के समुचित इलाज का भी निर्देश दिया था। जवानों का उत्साह बढाने के लिए घटना के चौबीस घंटे के भीतर खुद उनके पास आ गए। गोरखपुर पहुंचते ही सीएम योगी सीधे मेडिकल कॉलेज में ट्रामा सेंटर में भर्ती जवानों गोपाल गौड़ और अनिल पासवान से मिलने गए। इस दौरान उन्होंने वहां मौजूद तीसरे जवान (नागरिक पुलिस के आरक्षी अनुराग राजपूत) को भी साहसी कार्य के लिए बधाई दी।

उन्होंने घायल जवानों से घटनाक्रम की जानकारी ली। उनका कुशलछेम जाना, उनके शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की और उनके शौर्य व साहस की जमकर तारीफ की। वहां मौजूद जवानों के परिजनों से भी सीएम योगी ने बातचीत की और आश्वस्त किया कि सरकार इलाज में कोई कमी नहीं आने देगी।

रिपोर्ट-रंजीत जायसवाल

About Samar Saleel

Check Also

डायबिटिक रेटिनोपैथी : समय पर इलाज न कराया जाए तो इस बीमारी से जा सकती है आपकी आंख की रोशनी

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें यह आंखों के पर्दे की बीमारी, जिसमें मरीज ...