Breaking News

फिनो की बीसी सखी उत्तर प्रदेश के ग्रामीण इलाकों में बैंकिंग की पहुंच ओर उपयोग को बढ़ावा देती हैं

फिनो का नाम हाल ही में भुगतान प्राप्त करने के लिए यूपी की मनरेगा बैंक सूची में शामिल किया गया है। अब हितग्राही पैसे प्राप्त करने के लिए फिनो बैंक खाता खुलवा सकते हैं, और ये पैसे वो फिनो प्वाईंट्स या बीसी सखी द्वारा निकाल सकते हैं।

लखनऊ: बिज़नेस कॉरेस्पॉन्डैंट (बीसी) सखी प्रोजेक्ट की पहली वर्षगांठ के अवसर पर फिनो पेमेंट्स बैंक ने उत्तर प्रदेश (यूपी) के गांवों में बेहतरीन बैंकिंग सेवाएं प्रदान करने के लिए 34 बीसी सखी या महिला बैंकिंग एजेंट्स को सम्मानित किया।

फिनो की बीसी सखी उत्तर प्रदेश के ग्रामीण इलाकों में बैंकिंग की पहुंच ओर उपयोग को बढ़ावा देती हैं

ध्यान देने वाली बात है कि लॉकडाऊन के दौरान, राज्य में फिनो के 50,000 से ज्यादा मर्चैंट प्वाईंट्स के साथ माईक्रो एटीएम इनेबल्ड बीसी सखियों ने ग्रामीण इलाकों में ग्राहकों के नजदीक जाकर बैंकिंग सेवाएं प्रदान कीं। अपने पड़ोस में कैश की उपलब्धता उस समय की सबसे बड़ी जरूरत थी, खासकर वृद्धों और डायरेक्ट बेनेफिट ट्रांसफर (डीबीटी) योजनाओं, जैसे मनरेगा, पीएम किसान योजना आदि के हितग्राहियों को इससे काफी सुविधा मिली।

इस सम्मान समारोह में मनोज कुमार सिंह, एडिशनल चीफ सेक्रेटरी, डिपार्टमेंट ऑफ रूरल डेवलपमेंट, यूपी सरकार और  भानु गोस्वामी, मिशन डायरेक्टर, यूपी स्टेट रूरल लाईवलिहुड मिशन (यूपीएसआरएलएम) मौजूद थे। फिनो पेमेंट्स बैंक के अधिकारी मेजर आशीष आहूजा, सीओओ एवं अमित कुमार जैन, हेड (अलायंसेज़ एवं पीएमओ) भी मौजूद थे।

मेजर आशीष आहूजा, सीओओ, फिनो पेमेंट्स बैंक ने कहा, ‘‘पूरे भारत में 8.6 लाख से ज्यादा प्वाईंट्स का वितरण नेटवर्क हमारी शक्ति है, जिसके द्वारा हम ग्राहकों को विस्तृत बैंकिंग सेवाएं प्रदान करते हैं। बीसी सखियां उत्तर प्रदेश के ग्रामीण इलाकों में हमारी पहुंच और बैंकिंग सेवाएं बढ़ाते हुए हमारे विशाल नेटवर्क के काम में मदद करती हैं। आगे हम जैसे-जैसे ज्यादा उत्पाद व सेवाएं प्रस्तुत करते जाएंगे, वैसे-वैसे माईक्रो एटीएम के साथ बीसी सखियां नए ग्राहक बनाने, विनिमय में मदद करने और उत्पादों की क्रॉस सेलिंग में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगी, जिससे उनकी आय बढ़ेगी।’’

बीसी सखी प्रोजेक्ट के लिए यूपी स्टेट रूरल लाईवलिहुड मिशन (यूपीएसआरएलएम) के एक बैंकिंग पार्टनर के रूप में, फिनो 11 जिलों में सैल्फ हैल्प समूहों (एसएचजी) से अनिवार्य 10,000 में से 4,700 से ज्यादा महिलाओं को नियुक्त कर चुका है।

फिनो पेमेंट्स बैंक के ईवीपी एवं हेड (अलायंसेज़ एवं पीएमओ), अमित कुमार जैन ने कहा, ‘‘यूपीएसआरएलएम प्रोजेक्ट के तहत हमने महिलाओं को सशक्त बनाया और रोजगार के अवसरों का सृजन किया। 4700 ग्राम पंचायतों में नियुक्त सखियां हर माह 50 करोड़ रु. के विनिमय संभव बना रही हैं, जो काफी उत्साहवर्धक है। हम जल्द ही 5000 और सखियों को नियुक्त करेंगे ताकि यूपी में डिजिटल बैंकिंग को ज्यादा लोगों के नज़दीक पहुंचाकर वित्तीय समावेशन लाया जा सके।’’

नियमित बैंकिंग सेवाएं, जैसे विद्ड्रॉअल, डिपॉज़िट एवं मनी ट्रांसफर प्राप्त करने के अलावा, ग्राहक बीसी सखियों के साथ फिनो प्वाईंट्स पर स्वास्थ्य, जीवन एवं वाहन बीमा भी खरीद सकते हैं। इन प्वाईंट्स पर ग्राहक यूटिलिटी बिल, बीमा के प्रीमियम और लोन की ईएमआई का भुगतान भी कर सकते हैं।

फिनो का नाम हाल ही में भुगतान प्राप्त करने के लिए यूपी की मनरेगा बैंक सूची में शामिल किया गया है। अब हितग्राही पैसे प्राप्त करने के लिए फिनो बैंक खाता खुलवा सकते हैं, और ये पैसे वो फिनो प्वाईंट्स या बीसी सखी द्वारा निकाल सकते हैं।

फिनो रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया से अनुमोदन के बाद नए उत्पाद लॉन्च करने के लिए तैयार है। यह बैंक जल्द ही साझेदारों के साथ अंतर्राष्ट्रीय रेमिटैंस, फिक्स्ड डिपॉज़िट, और रिकरिंग डिपॉज़िट प्रस्तुत करेगा। ग्राहक ये सेवाएं अपने नज़दीकी फिनो प्वाईंट या बीसी सखी द्वारा प्राप्त कर सकेंगे।

About reporter

Check Also

पारदर्शी व्यवस्था का व्यापक लाभ

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें Published by- @MrAnshulGaurav Thursday, May 19, 2022 नियुक्तियों में ...