Breaking News

हत्या के जुर्म में पूर्व मंत्री सहित चार को उम्रकैद, 26 साल बाद आया फैसला

सुलतानपुर जनपद के जामो थाना अंतर्गत 26 साल पहले हुई हत्या के मामले अमेठी के भाजपा नेता व पूर्व मंत्री सहित चार आरोपितों को उम्रकैद व एक – एक लाख रुपये की सजा सुनाई गई है। एमपी-एमएलए कोर्ट ने गुरुवार को फैसला सुना कर सबको जेल भेज दिया है।

विशेष लोक अभियोजक अतुल शुक्ला व वादी के निजी अधिवक्ता रविवंश सिंह ने बताया कि अमेठी जिले के जामो थाना क्षेत्र के पूरब गौरा के रहने वाले राम प्रकाश यादव की 30 जून 1995 को चुनावी रंजिश के चलते हत्या हुई थी। नलकूप के पास उसे गोलियों से भून दिया गया था। मामले में मृतक के भाई राम उजागिर ने तत्कालीन ब्लाक प्रमुख जंग बहादुर सिंह, उनके बेटे दद्दन सिंह एवं भांजे रमेश सिंह ,समर बहादुर सिंह व हर्ष बहादुर सिंह के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। मामले का विचारण विशेष जज पीके जयंत की कोर्ट में हुआ।

  • सुलतानपुर में एमपी-एमएलए कोर्ट ने सुनाया फैसला
  • हत्या के मामले भाजपा नेता व पूर्व मंत्री सहित चार आरोपितों को मिली उम्रकैद

इसमे अभियोजन की ओर से छह गवाह परीक्षित कराए गए। आरोपी दद्दन सिंह की कुछ वर्ष पूर्व हत्या हो चुकी है। अन्य आरोपितों को दोषी करार देते हुए सजा का फैसला सुनाया गया। जंग बहादुर सिंह बसपा शासन काल में सूबे के राज्य भंडारण निगम मंत्री दर्जा प्राप्त मंत्री भी रह चुके हैं। वर्तमान समय में वह भाजपा के वरिष्ठ नेता है।

पूर्व मंत्री जंग बहादुर सिंह का राजनीतिक इतिहास: पूर्व मंत्री जंग बहादुर सिंह जामो गौरा निवासी हैं। कांग्रेस के साथ राजनीति शुरू करने वाले जंग बहादुर सिंह 1983 से 1996 तक जामो ब्लाक के प्रमुख रहे। लंबे समय तक जामो की राजनीति में इनका प्रभाव रहा। 2003 में हुए उपचुनाव में गौरीगंज से बसपा के टिकट पर विधायक बनें। बसपा छोड़कर सपा में शामिल हुए और मुलायम सरकार में राज्यमंत्री का दर्जा मिला। 2007 तक गौरीगंज के विधायक रहे। 2009 में फिर कांग्रेस में शामिल हुए। 2014 में भाजपा में शामिल हुए।

About Samar Saleel

Check Also

जनसमस्याओं के ढेर पर जानकीपुरम विस्तार

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें लखनऊ। शहर के जानकीपुर विस्तार के अधिकांश हिस्सों ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *