Breaking News

ऑन डिमांड गाड़ियों की चोरी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, 8 वाहन बरामद

गाजियाबाद क्राइम ब्रांच पुलिस ने अंतरराज्यीय वाहन चोर गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार किया. इनके कब्जे से पुलिस ने चोरी के 8 चार पहिया वाहन और चोरी करने के उपकरण बरामद किए हैं.आरोपी सुनील उर्फ काला ने पुलिस को बताया कि हाकिम आस मोहम्मद, शहजाद, इस्माइल, रिंकू उर्फ नूर मोहम्मद का एक संगठित गिरोह चलाता है. जो दिल्ली एनसीआर क्षेत्र में गाड़ियों को मांग के अनुसार चोरी करता है. गाड़ी की डिमांड शहजाद और आस मोहम्मद बताते हैं. वहीं, हाकिम, नूर मोहम्मद और इस्माइल डिमांड वाली गाड़ी को चोरी करते हैं.

 

नकली चाबी बनाकर गाड़ी की चोरी: पकड़े गए आरोपी इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस के जरिए गाड़ी की नकली चाबी बना लेता है. फिर गाड़ी चोरी करके कुछ दूर ले जाकर उसकी नंबर प्लेट बदल देता है. गिरोह के तमाम सदस्यों को टेक्नोलॉजी का पूरा ज्ञान है. यह लोग जीपीएस को बंद करने के लिए गाड़ी में जैमर लगा दिया करते थे. फिर चोरी की गाड़ी छुपा देते थे. कुछ समय बाद डिमांड करने वाले साथी को बेच दिया जाता था.

ऑन डिमांड गाड़ियों की चोरी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश
“एनसीआर में सक्रिय वाहन चोर गिरोह को गाजियाबाद कमिश्नरेट की स्वाट टीम गिरफ्तार करने में सफल हुई है. पहले भी इस वाहन चोर गिरोह के कई सदस्य गिरफ्तार हो चुके हैं. एक आरोपी दिल्ली जबकि दूसरा बागपत का रहने वाला है. आरोपियों की निशानदेही पर कुल आठ गाड़ियां बरामद की गई है. डिमांड के आधार पर गिरोह के द्वारा गाड़ियां चोरी की जाती थी.”

दिनेश पी, एडिशनल कमिश्नर

चोरी की 8 गाडियां बरामद: गिरोह के सदस्य आपस में व्हाट्स एप पर ही मैसेज और कॉल करते थे. आपस में नोर्मल कॉल करने से बचते थे. पुलिस के मुताबिक, ये काफी शातिर किस्म के अपराधी है. आसपास के राज्यों में चोरी की कई वारदातों को अंजाम दिया है. पूर्व में भी सभी कई बार वाहन चोरी में जेल जा चुके हैं. आरोपियों के कब्जे से स्विफ्ट, i10, क्रेटा, स्कॉर्पियो, ऑटो समेत चोरी की कुल आठ गाडियां बरामद की गई है.

About News Desk (P)

Check Also

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने मंडलीय चिकित्सालय को ‘रक्तदान सेवा सम्मान पत्र’ प्रदान कर किया सम्मानित

• स्वैच्छिक रक्तदान के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य एवं अनुकरणीय योगदान हेतु किया गया सम्मानित ...