Breaking News

जोड़ों के दर्द से पाना है छुटकारा तो खाने में जरूर शामिल करें ये 7 चीजें

बढ़ती उम्र के साथ घुटने के दर्द की समस्या होना आम बात है पर आजकल ये हर उम्र के लोगों में देखने को मिल रही है. आजकल की बिजी लाइफस्टाइल में बढ़ते हुए काम के प्रेशर की वजह से लोग कम फिजिकल एक्टिविटीज करते हैं, तो कुछ ऐसे भी हैं जो आलस के कारण वॉक नहीं करते हैं.

ऐसे में घुटनों का दर्द एक गंभीर समस्या का रूप ले लेता है. इसलिए जरूरी है प्रतिदिन वॉक पर जाया जाए. इसके अलावा हम आपको खाने की चीजों की कुछ ऐसी लिस्ट दे रहे हैं जिन्हें आप डाइट में शामिल करके अपने घुटनों को मजबूत बना सकते हैं.

नट्स और सीड्स में ओमेगा -3 फैटी एसिड पाया जाता है जो शरीर के लिए जरूरी होता है. इन एसिड को पॉलीअनसेचुरेटेड फैटी एसिड के रूप में भी जाना जाता है. यह दिमाग को सुचारू ढंग से काम करने में मदद करते हैं.

मछली ओमेगा-3 फैटी का रिच सोर्स होती है. सार्डिन, ट्यूना, साल्मन फिश अपनी डाइट में शामिल करके घुटनों को प्राकृतिक रूप से स्वस्थ बनाया जा सकता है.

हरी सब्जियों में भरपूर मात्रा में पोषक तत्व पाए जाते हैं. खासतौर से, फूलगोभी और ब्रोकली जो ना केवल घुटनों के लिए बल्कि आपके शरीर के बाकी हिस्सों के लिए महत्वपूर्ण है. इनमें उस विशेष एंजाइम को ब्लॉक करने की क्षमता होती है जो जोड़ों में सूजन का कारण बनता है.

फलों में विटामिन, मिनरल और एंटीऑक्सीडेंट्स भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं. कुछ फल जैसे ब्लूबेरी और सेब शरीर में सूजन कम करने के लिए कारगर माने जाते हैं. पाइनएप्पल में ब्रोमेलैन होता है. यह ऑस्टियोआर्थराइटिस के कारण होने वाले जोड़ों के दर्द को कम करने के लिए सहायक सिद्ध होता है.

दाल और बीन्स में विटामिन, मिनरल, फाइबर, प्रोटीन औप पोषक तत्वों की उच्च मात्रा होती है. प्रतिदिन इनका सेवन करने से शरीर स्वस्थ रहता है. दाल, छोले, काले बीन्स और सोयाबीन आदि में एंटीऑक्सीडेंट्स और फ्लेवेनोइड होता है जो जोड़ों को मजबूत बनाकर इनकी सूजन कम करने में मदद करता है.

एक्सपर्ट के अनुसार, रोजाना घर में इस्तेमाल होने वाले रिफाइंड तेल या सरसों का तेल, शरीर में सूजन का कारण बन सकता है. इसकी जगह पर आप ऑलिव ऑयल का इस्तेमाल कर सकते हैं. एक्स्ट्रा वर्जिन ऑयल में हेल्दी अनसैचुरेटेड फैट होता है. इसे सलाद पर डालकर इस्तेमाल किया जा सकता है.

लहसुन, अदरक और हल्दी में एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण होते हैं. यह गठिया और अन्य जोड़ों के दर्द के लक्षणों का इलाज करने में मदद करते हैं. इसके अलावा, प्याज का सेवन करना भी जोड़ों के दर्द में फायदा करता है.

About Ankit Singh

Check Also

नवरात्रि के पांचवें दिन मां स्कंदमाता को लगाएं केले से बने इन पकवानों का भोग

चैत्र नवरात्रि में लोग सच्चे मन से मां दुर्गा के सभी स्वरूपों की पूजा करते ...