Breaking News

खतरे में जो बाइडेन भी हैं; मिसाइल हमलों के बीच पहुंच रहे इजरायल, क्यों टेंशन में US समेत दुनिया

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन इजरायल के दौरे पर पहुंच रहे हैं। इस बीच एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि जो बाइडेन को फिजिकल रिस्क भी हो सकता है। वॉशिंगटन पोस्ट की रिपोर्ट में कहा गया कि जो बाइडेन जिस इलाके में जा रहे हैं, वहां हमास और इजरायल के बीच अप्रत्याशित युद्ध चल रहा है।

कहीं से भी मिसाइल और बम के हमले हो रहे हैं। ऐसे में उन्हें फिजिकल रिस्क भी हो सकता है। अमेरिका के कुछ सुरक्षा विशेषज्ञों का कहना है कि इलाके में तनाव है और अप्रत्याशित युद्ध जारी है। ऐसी स्थिति में भले ही कम खतरा है, लेकिन बाइडेन के लिए रिस्क तो है।

जो बाइडेन दुनिया के सबसे ज्यादा सुरक्षा में रहने वाली शख्सियत हैं। इसके अलावा उनका विमान एयरफोर्स वन भी तमाम तकनीकों से लैस है, जिसमें से एक एयर डिफेंस सिस्टम भी है। यानी उनके विमान पर यदि कोई मिसाइल या रॉकेट अटैक होता है तो उससे भी नुकसान नहीं होगा। मिडल ईस्ट इंस्टिट्यूट्स डिफेंस एंड सिक्योरिटी प्रोग्राम के डायरेक्टर बिलाल साब कहते हैं कि एयरफोर्स वन दुनिया का सबसे सुरक्षित विमान है। वह किसी भी तरह के मिसाइल और रॉकेट हमले से निपटने में सक्षम है। लेकिन बाइडेन के लिए किसी भी तरह का रिस्क होना या उन्हें निशाना बनाया जाना एक बड़ी बात होगी।

यदि ऐसा कुछ होता है तो फिर दुनिया एक नए तरह के युद्ध के मुहाने पर भी जा सकती है। दरअसल हमास के रॉकेटों ने इजरायल की राजधानी तेल अवीव तक को निशाना बनाया है। यहीं पर जो बाइडेन पहुंच रहे हैं। ऐसे में उनकी सुरक्षा को लेकर भी आशंकाएं पैदा होने लगी हैं। अब तक माना जाता था कि इजरायल के सीमांत इलाकों पर ही खतरा है, लेकिन हमास ने तेल अवीव तक को निशाना बनाकर अपनी ताकत और इरादे जाहिर कर दिए हैं। इसके अलावा लेबनान की सीमा से हिजबुल्लाह भी मिसाइलों से हमले कर रहा है।

एक अन्य एक्सपर्ट कहते हैं कि तेल अवीव में विमान से बाहर निकलने के बाद का समय सुरक्षा बलों के लिए चुनौतीपूर्ण होगा। जो बाइडेन की सिक्योरिटी में सेंध लग पाना मुश्किल है, लेकिन यह सुनिश्चित भी करना होगा। गौरतलब है कि हमास और इजरायल के बीच जारी युद्ध अब कई देशों तक पहुंच सकती है। एक अस्पताल पर हमले में 500 लोगों की मौत हो गई है और उसके बाद से अरब देश बेहद नाराज हैं। उन्होंने जो बाइडेन के साथ समिट भी रद्द कर दी है। ऐसे में यह युद्ध किस ओर जाएगा, यह देखने वाली बात होगी और अगले कुछ दिन पूरी दुनिया के लिए ही बेहद अहम हैं।

About News Desk (P)

Check Also

‘किसानों से जुड़े मुद्दों पर सरकार गंभीरता से काम कर रही’, वित्त मंत्री बोलीं- बातचीत जारी

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को किसान संगठनों और सरकार के बीच जारी ...