कन्या की शादी कराना सबसे बड़ा धर्म: स्वाति सिंह

लखनऊ। जन सहयोग से कराए जा रहे कन्या के विवाह में राज्यमंत्री स्वाति सिंह को देख कन्या के परिवारीजन गदगद हो उठे। स्वाति सिंह ने नवदंपती को गृहस्थी का सामान देने के साथ ही उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। समाजिक कार्यकर्ता अमृता डिंगर ने बताया कि त्रिवेणीनगर में रोहिणी यादव के घर मे शालिनी मिश्रा (21) अपने दिव्यांग पिता विष्णु मिश्रा व मां रागिनी मिश्रा के साथ रहती है। पिता दिव्यांग होने के कारण परिवार की आर्थिक स्थित ठीक नहीं थी। इस पर रोहिणी के सहयोग से शालिनी की शादी करने का निर्णय लिया गया।

पिता ने बहराइच निवासी सिद्धार्थ से उसकी शादी तय कर दी। रविवार को दोनों की शादी झूलेलाल पार्क स्थित चित्रगुप्त धाम में थी। अमृता ने बताया कि इसकी जानकारी मिलते ही मंत्री स्वाति सिंह गृहस्थी का ढेर सारा सामान व राशन लेकर पहुंची और नवदंपती को आशीर्वाद दिया। इस मौके पर स्वाति सिंह ने सहयोग करने वाले सभी लोगों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि यदि समाज के लोग ऐसे ही मदद में आगे आए तो किसी गरीब को बेटी बोझ नहीं लगेगी।

Loading...

इस मौके पर स्वाति सिंह ने मुख्यमंत्री निर्धन कन्या विवाह योजना के बारे में भी लोगों को जागरूक किया। अमृता डिंगर के मुताबिक विवाह समारोह में कुल 14 लोग शामिल हुए थे। सभी को मास्क वितरण करने के साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का भी विशेष ध्यान रखा गया था। शालिनी के माता-पिता ने मंत्री व अन्य का आभार जताया।

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

संसद की स्थायी समिति ने किया फेसबुक और ट्विटर के अधिकारियों को 21 जनवरी को तलब

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें सूचना प्रौद्योगिकी पर संसद की स्थायी समिति ने ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *