निर्णायक मोड़ पर पूर्वांचल एक्सप्रेस वे

योगी आदित्यनाथ द्वारा प्रदेश में अनेक एक्सप्रेस वे निर्माण कार्य का संकल्प लिया था। इस सभी पर कार्य प्रगति पर है। जबकि पूर्वांचल एक्सप्रेस का निर्माण निर्णायक मोड़ पर पहुंच गया है। कोरोना के पहले भी योगी आदित्यनाथ इसके निर्माण की भौतिक समीक्षा करने गए थे। एक बार पुनः उन्होंने अनेक स्थानों पर जाकर निर्माण कार्य को देखा। इस संबन्ध में अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि कोरोना कालखंड की विपरीत परिस्थितियों में पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का निर्बाध गति से निर्माण एक मिसाल है। विकास का यह मॉडल देश दुनिया के लिए आकर्षण का केन्द्र बनेगा। इससे पूर्वी उत्तर के विकास को गति मिलेगी। पूर्वांचल एक्सप्रेस वे परियोजना देश में गुणवत्ता व समयबद्धता का एक उदाहरण बनेगी।

समग्र विकास के मार्ग

योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के विकास हेतु सर्वप्रथम यहां की कार्य संस्कृति में व्यापक सुधार किया। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में उत्तर प्रदेश के सर्वांगीण विकास की रूपरेखा आज से लगभग चार वर्ष पूर्व प्रारम्भ की गई थी। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में पूर्वांचल की जनता के लिए निर्मित किया जा रहा यह एक्सप्रेस-वे उसी श्रृंखला का हिस्सा है। यह एक्सप्रेस-वे पूर्वांचल क्षेत्र में विकास की अनन्त सम्भावनाओं को आगे बढ़ाने के उद्देश्य से बनाया जा रहा है। छह लेन का यह एक्सप्रेस-वे पूर्वांचल के सर्वांगीण विकास की रूपरेखा तैयार करने वाला एक मार्ग होगा।

औद्योगिक क्लस्टर्स का विकास

यह परियोजना केवल तीव्र गति के परिवहन के लिए नहीं है। बल्कि इसका निर्माण व्यापक उद्देश्य से किया जा रहा है। इसके माध्यम से प्रदेश का औद्योगिक विकास भी किया जाएगा। इस परियोजना के अंतर्गत औद्योगिक क्लस्टर्स भी विकसित किए जाएंगे। ढाई वर्ष पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आजमगढ़ में पूर्वांचल एक्सप्रेस वे परियोजना का शिलान्यास किया था। पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे विकास के साथ अवसर को जोड़ने का एक प्रयास है।

सकारात्मक बदलाव

Loading...

केन्द्र व प्रदेश सरकार द्वारा आजमगढ़ को ध्यान में रखकर अनेक बड़ी मार्ग निर्माण परियोजनाएं संचालित की जा रही हैं। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि चार वर्ष पूर्व आजमगढ़ के नाम का सकारात्मक प्रभाव नहीं होता था। लेकिन अब आजमगढ़ विकास की एक नई आशा की किरण के साथ आगे बढ़ रहा है। आशा की किरण के रूप में एक्सप्रेस-वे यहां के औद्योगिक विकास को नई उंचाइयों तक पहुंचाएगा।आजमगढ़ भ्रमण के दौरान मुख्यमंत्री ने परियोजना के पैकेज सात के तहत तमसा नदी पर निर्माणाधीन सेतु की प्रगति का मौके पर अवलोकन किया तथा अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे परियोजना की भी समीक्षा की।

बदलेगा प्रदेश का परिदृश्य

पूर्वांचक एक्सप्रेस-वे को लेकर पूर्वांचल के नौ जनपदों के लोगों में खासा उत्साह है। योगी आदित्यनाथ ने कहा पूर्वांचल एक्सप्रेस वे बिहार और उत्तर प्रदेश को एक महत्वपूर्ण कड़ी के रूप में जोड़ने जा रहा है। यह एक्सप्रेस-वे सम्पूर्ण पूर्वांचल क्षेत्र के विकास की रीढ़ सिद्ध होगा। पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के साथ-साथ बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे, गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे तथा डिफेंस कॉरिडोर परियोजनाओं के साकार होते ही पूरे प्रदेश का परिदृश्य बदल जाएगा।

एयर स्ट्रिप का निर्माण

योगी आदित्यनाथ ने अरवलकीरी करवत में परियोजना के तहत निर्मित करायी जा रही एयर स्ट्रिप का स्थलीय निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि एयर स्ट्रिप के बन जाने पर इस स्थान पर बड़े से बड़े विमान को उतारा जा सकेगा। इमरजेंसी में आवश्यकता पड़ने पर यहां विमान उतारकर लोगों को सुविधा प्रदान की जा सकेगी। उन्होंने कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के अन्तर्गत जनपद सुल्तानपुर में एयर स्ट्रिप निर्माण के लिए जनपदवासियों को इस पर गौरव की अनुभूति होनी चाहिए।

डॉ दिलीप अग्निहोत्री
डॉ दिलीप अग्निहोत्री

 

Loading...

About Aditya Jaiswal

Check Also

राजस्थान: चोरी हुई भैंस तो शक में युवक को पेड़ से बांधकर चप्पलों से की पिटाई, वीडियो वायरल

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें राजस्थान के भरतपुर का एक वीडियो वायरल हो ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *