Breaking News

कोरोना से जूझ रहे चीन के शंघाई में 2 महीने बाद कोविड-19 संबंधी पाबंदियों में ढील मिलने के संकेत

चीन के सबसे बड़े शहर शंघाई में कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण पिछले 2 महीने से लॉकडाउन लगा हुआ है।बुधवार को यहां जनजीवन एक बार फिर पटरी पर लौटता दिखा।

इन पाबंदियों के कारण राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था को काफी नुकसान पहुंचा है।कोविड-19 की नई लहर से जूझ रहे चीन ने हाल ही में कई शहरों में कड़ी पाबंदियां लगाई थीं।अधिकारियों ने लॉकडाउन में ढील के लिए एक जून की तारीख तय की थी और अब पाबंदियों में धीरे-धीरे कमी लाने की तैयारी की जा रही है।

लॉकडाउन के कारण शहर के लाखों लोगों को घरों में रहना पड़ रहा था। बस और मेट्रो सेवाएं बुधवार से पूर्ण रूप से बहाल की गईं। हालांकि, अब भी 2.5 करोड़ की आबादी वाले शहर में पांच लाख से अधिक लोग निरुद्ध क्षेत्रों में हैं।

संक्रमण की रफ्तार धीमी पड़ने पर शंघाई प्रशासन अब पाबंदियों में ढील देने की दिशा में बुधवार को बड़े कदम उठाने वाला है।  हालांकि, सिनेमा हॉल और जिम को फिलहाल कोई राहत नहीं दी गई है।

सरकार ने कहा है कि पाबंदियां धीर-धीरे हटाई जाएंगी।शहर में लॉकडाउन काफी सख्ती से लागू किया गया था और इसकी वजह से लाखों लोगों को अपने-अपने घरों में कैद रहना पड़ा था। अधिकारियों ने बताया कि अब धीरे-धीरे पाबंदियों में ढील दी जाएगी।

About News Room lko

Check Also

South Africa के एक नाइट क्लब में हुई 17 लोगों की मौत, मामले की छानबीन में लगी पुलिस

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें दक्षिण अफ्रीका से रविवार को बड़ी घटना सामने ...