Breaking News

“औरैया रत्न” पुरस्कार अब छह श्रेणियों में होगा वितरित

औरैया। जिले में विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाले व्यक्तियों/संस्थाओं/विभागों को महाकालेश्वर देवकली व माँ मंगलाकाली देवस्थान एवं गौवंश/संरक्षण ट्रस्ट द्वारा दिये जाने वाला वार्षिक “औरैया रत्न” पुरस्कार अब छह श्रेणी में वितरित किया जाएगा।

जिलाधिकारी सुनील कुमार वर्मा ने बुधवार को यह जानकारी देते हुए बताया कि पहले यह पुरस्कार जिले के विकास में विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट योगदान देने वाले पांच श्रेणी (पहली श्रेणी चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवा, दूसरी श्रेणी शिक्षा सभी क्षेत्रों में, तीसरी श्रेणी कला, संस्कृति, साहित्य, खेलकूद व पत्रकारिता, चौथी श्रेणी समाज सेवा एवं पांचवीं श्रेणी प्रशासनिक/सरकारी सेवा) के पात्र व्यक्तियों/संस्थाओं/विभागों को दिया जाना था। अब इसमें एक श्रेणी ग्रामीण विकास, औद्योगिक विकास व पर्यावरण संरक्षण को और बढ़ाया गया है इस प्रकार अब यह छह श्रेणियों में जिले के विकास में उत्कृष्ट कार्य करने वाले चयनित व्यक्तियों/संस्थाओं/विभागों को महाकालेश्वर देवकली व माँ मंगलाकाली देवस्थान एवं गौवंश/संरक्षण ट्रस्ट द्वारा प्रति वर्ष “औरैया रत्न” पुरस्कार प्रदान किया जायेगा।

बताया कि आवेदन पत्र प्रस्तुत करने वाला व्यक्ति/सरकारी संस्था/गैर सरकारी संस्था जनपद औरैया का निवासी हो, यदि संस्था है तो जनपद औरया में कार्यरत हो, अन्य जनपद के आवेदन पत्रों पर विचार नहीं किया जायेगा। आवेदन पत्र प्रस्तुत करने की अन्तिम तिथि 30 जून है, इसके बाद प्राप्त आवेदन पत्रों पर विचार नहीं किया जायेगा। आवेदन पत्र जिलाधिकारी औरया के नाम से प्रेषित किये जायेंगें। चयन कमेटी द्वारा चयनित व्यक्तियों/संस्थाओं/विभागों को पुरस्कार 15 अगस्त को प्रदान किया जाएगा।

रिपोर्ट-शिव प्रताप सिंह सेंगर

About Samar Saleel

Check Also

पौधे लगाना और उनका संरक्षण सर्व समाज की जिम्मेदारी है- योगेश शुक्ला

वृक्षारोपण को जन आंदोलन बनाना समय की मांग : मुकेशानंद अवध पुरम/लखनऊ। बक्शी का तालाब ...