Breaking News

बढ़ सकती हैं जोशीमठ के लोगों की मुश्किलें शुरू हुई बर्फबारी

लैंड स्लाइड से जूझ रहे जोशीमठ में शुक्रवार सुबह बर्फबारी हुई है। बर्फबारी के बाद लोगों की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। इससे पहले मौसम विभाग ने जोशीमठ समेत चमोली जिले में बारिश के साथ बर्फबारी का अनुमान जताया था। विभाग के मुताबिक, उत्तरकाशी और पिथौरागढ़ में भी बारिश और बर्फबारी हो सकती है।

राज्य मौसम विभाग के मुताबिक, 24 से 27 जनवरी तक उत्तराखंड में भारी बारिश और बर्फबारी की संभावना है। 24 और 25 जनवरी को उत्तरकाशी, चमोली, पिथौरागढ़, टिहरी, रुद्रप्रयाग और बागेश्वर में बारिश और बर्फबारी की संभावना है। विभाग ने बारिश को देखते हुए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

बर्फबारी और बारिश को लेकर मौसम विभाग की ओर से एडवाइजरी भी जारी की गई है। कहा गया है कि बारिश के चलते लैंड स्लाइड हो सकते हैं जिससे रोड ब्लॉक हो सकते है। उधर, शुक्रवार को हुई बर्फबारी (Joshimath Snowfall) के बाद इलाके में ठंड बढ़ गई है।

जोशीमठ में अब तक 258 परिवार अस्थायी रूप से विस्थापित हुए हैं। इन परिवार में कुल लोगों की संख्या करीब 900 है। बता दें कि यहां अब तक करीब 849 मकानों में दरार की खबर आई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रविग्राम वार्ड में सबसे अधिक 161 मकानों जबकि गांधीनगर में 154 घरों में दरारें आई हैं। यहां के लोगों को सुरक्षित स्थान पर ले जाया गया है।

हालातों पर गृह मंत्रालय की भी नजर

केंद्रीय गृह मंत्रालय जोशीमठ में ताजा हाल पर लगातार नजर बनाए हुए है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से जानकारी भी ली थी। धामी ने भई जोशीमठ का दौरा किया था। उन्होंने कहा था कि एक के बाद एक भूस्खलन और दरारों से प्रभावित करीब तीन हजार परिवारों के लिए राहत पैकेज जारी कर दिये गये हैं।

About News Room lko

Check Also

आपस में टकराए सुखोई-30 और मिराज, हादसे में घायल दोनों पायलट को सुरक्षित बाहर निकाला गया

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें मध्य प्रदेश के मुरैना में सुखोई-30 और मिराज ...