Breaking News

अंतिम चरण का चुनाव प्रचार थमा

 

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के सातवें और अंतिम चरण में करो या मरो की तर्ज पर चल रहा राजनीतिक पार्टियों का प्रचार अभियान आज शम 5.00 बजे थम गया। अंतिम चरण में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी सहित सात जिलों की 40 विधानसभा सीटों के लिए आठ मार्च को मतदान होगा।इस चरण में मोदी की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है।इसी के चलते मोदी यहां तीन दिनों से डेरा डाले हुए हैं, और उनको नुक्कड़ सभाएं तक करनी पड़ी। इतना ही नही भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेता और कई केन्द्रीय मंत्री भी वाराणसी में डेरा जमाए बैठे हैं और दिन रात एक करते हुए प्रचार में जुटे हैं। इस क्रम में सपा, कांग्रेस और बसपा भी पीछे नहीं है। अंतिम चरण के महत्व का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि खुद प्रधानमंत्री मोदी वाराणसी में यहाँ डटे हुए हैं।वह रोड शे कर रहे हैं,लोगों से मिल रहे हैं,जनसभाएं कर रहे हैं। सपा मुखिया प्रदेश के  मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और उनके गठबंधन सहयोगी कांग्रेस के नेता राहुल गांधी ने संयुक्त रूप से रोड शो कर जनता से अपने पक्ष में समर्थन माँगा। रोडशे में अखिलेश की पत्नी सांसद डिम्पल यादव भी शमिल हुई। पूर्वी उत्तर प्रदेश को सभी दल जीत का दरवाजा मान रहे हैं और बसपा सुप्रीमो मायावती की नजर विशेष तौर पर मुसलमान वोटरों पर है। मायावती को यकीन है कि राज्य के पूर्वी हिस्से का मुसलमान बसपा के पक्ष में मतदान करेगा। इसी चरण में तीन नक्सल प्रभावित जिले भी शमिल हैं। सोनभद्र, मिर्जापुर और चंदौली में सुरक्षाबल एलर्ट हैं। सातों चरणों के वोटों की गिनती 11 मार्च को होगी। अंतिम चरण में कुल 14 हजार 458 मतदान केन्द्र बनाये गये हैं। बात 2012 की करें तो कुल 40 सीटों में से 23 सपा के खाते में गयी थीं। बसपा को पांच, भाजपा को चार, कांग्रेस को तीन और अन्य को पांच सीटें मिली थीं। इस चरण में गाजीपुर, वाराणसी, जौनपुर, चंदौली, मिर्जापुर, भदोही और सोनभद्र में मतदान होगा। इस चरण में कुल 535 प्रत्याशी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। बसपा के 40, भाजपा के 32, सपा के 31, कांग्रेस के 9, रालोद के 21, राकांपा के 5 प्रत्याशी मुकाबले में हैं। सबसे अधिक 24 उम्मीदवार वाराणसी कैण्ट सीट से मैदान में हैं जबकि सबसे कम छह प्रत्याशी केराकत अनुसूचित जाति सीट पर हैं।

Loading...

 

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

राम मन्दिर : हिन्दू महासभा ट्रस्ट बोर्ड में शामिल होने का करेगी दावा

लखनऊ। राम जन्मभूमि मन्दिर के मामले में प्रारम्भ से न्यायिक लड़ाई लड़ती रही अखिल भारत ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *