Breaking News

विवाहिता के घर में घुस कर की गई थी अश्लील हरक़त, पूरा महीना बीतने के बाद भी प्रभावी कार्यवाही करने में योगी पुलिस नाकाम

कानपुर। नौबस्ता थाना क्षेत्र में एक विवहिता के साथ उसके घर में घुस कर दबंगोंं द्वारा की गई मारपीट करने, अश्लील हरक़त और जान से मारने की धमकी देने का मामला सामने आया है।  यह वारदात जून के महीने में अंजाम दी गयी थी, लेकिन अभी तक इस मामले में पुलिस कोई भी प्रभावी कार्यवाही करने में नाक़ाम रही है।  इस पूरे वाक़िये में सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि ये वारदात को पहले दिन दहाडे अंजाम दिया गया।

शिक़ायत कर्ता सूफिया अंसारी

पीडिता से मिली जानकारी के मुताबिक़, जब पीडिता द्वारा नौबस्ता थाने में शिक़ायत की गयी तो पुलिस ने इसे गम्भीरता से नहीं लिया, जिसके चलते दबंगों की हिम्मत और बढ़ गयी। उन्होंने पीडिता के साथ दोबारा वही नीच हरक़त करने की कोशिश की। पीडिता और उसके घर वालोंं इस पूरे वाक़िये की सूचना मुख्यमंत्री सहित, ज़िम्मेमेदार पदों पर बैठे लोगों तक पहुँचा दी है।

क्या है मामला?

मिली जानकारी के मुताबिक़, यूसुफ की पत्नी सूफिया अंसारी ने कहा है कि दबंग लड़कों पप्पू रिक्शेवाला, आसिफ, आदिल ने अपने अन्य दो साथियों के साथ मिलकर उसके साथ बदतमीज़ी की थी। इस वारदात की शिक़ायत पीडिता सूफिया ने नौबस्ता थाने में 9 जून, 2022 को दर्ज़ करवाई थी।

रंजिश के चलते घर में घुसे और….

इसी रंजिश के चलते 11 जून, 2022 को दोपहर 3 बजे आसिफ और आदिल ने अपने साथी नोमान, पुत्र मोहम्मद इमरान, निवासी बाबा मदार नगर, म.नंं.- 159 ए, मछरिया, यशोदा नगर के साथ, पीडि़ता के घर म.नं.- 5 एफ – 225, हंसपुरम, थाना नौबस्ता जाकर, उसे धमकी देते हुए कहा कि “पुलिस की कार्यवाही को बन्द करवाओ वरना इज़्ज़त और ज़िंदगी दोनों से हाथ धो बैठोगी।”

किसी भारी चीज़ से किया गया सर पे वार – पीड़िता 

पीडिता सूफिया ने ये भी बताया है कि नोमान ने अपनी बदनीयती के चलते उसके साथ अश्लील हरक़त की और जब पीडिता ने ख़ुद को बचाने की कोशिश की, तो नोमान ने उसके कपड़े फाडकर दुराचार करने की कोशिश की। यहाँ तक कि नोमान ने किसी भारी चीज़ से पीडिता के सर पर वार कर दिया। इससे उसका सर फट गया और गहरी चोट आने की वजह से, उसके सर से खून बहने लगा। नोमान और उसके साथी उसे जान से मारने की धमकी देते हुए भाग गए। पीडिता का कहना है कि उसने नौबस्ता पुलिस थाने में इस घटना की शिक़ायत दर्ज़ की थी लेकिन, पुलिस ने कोई प्रभावी कार्यवाही नहीं की।

पुलिस ने मामले को गम्भीरता से नहीं लिया – पीड़िता 

मामला यहीं ख़त्म नहींं हुआ, बल्कि मामले को पुलिस द्वारा गम्भीरता से न लिए जाने के कारण, आरोपियोंं की हिम्मत और बढ़ गयी। इसका नतीजा ये हुआ कि नोमान और उसके एक और साथी मोहम्मद रफी, पुत्र इरफान अहमद ने 17 जून, 2022 को रात के 9 बजे , पीडिता के घर जाकर उसके साथ दोबारा अश्लील हरक़त की और उसके कपड़े फाड़ने का प्रयास करते हुए धमकी दी कि “अगर पुलिस या कहीं भी और शिक़ायत की तो जान और माल से हाथ धो बैठोगी।” पीडिता का कहना है कि जब उसने अपने बचाव में शोर मचाया तो आस-पड़ोस के लोग इकट्ठे होने लगे, जिसके बाद नोमान और उसका साथी मोहम्मद रफी वहाँ से भाग खड़े हुए।

पीडिता और उसके घर वालों ने इस पूरी वारदात की सूचना उत्तर प्रदेश के  मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ, डिप्टी जनरल ऑफ पुलिस, लखनऊ, अध्यक्ष महिला आयोग, लखनऊ के अलावा पुलिस कमिश्नर, कानपुर और जिला मजिस्ट्रेट, कानपुर को भी दे दी है।

About reporter

Check Also

उत्तर रेलवे ने स्वतंत्रता दिवस हर्षाेल्लास और उत्साह के साथ मनाया

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें लखनऊ। उत्तर रेलवे ने आज स्वतंत्रता दिवस 2022 ...