Breaking News

राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत शिक्षा की गुणवत्ता में वृद्धि करते हुए छात्रों को कौशल विकास से जोड़ा जायेगा

लखनऊ। केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने शिक्षा की गुणवत्ता में वृद्धि करने व छात्रों को कौशल विकास से जोड़ने के दिशा निर्देश दिए। विभागीय सूत्रों ने बताया कि आज (16 सितंबर) नई दिल्ली में केंद्रीय शिक्षा, कौशल विकास व उद्यामिता मंत्री धर्मेंद्र प्रधान की अध्यक्षता में उनके आवास पर उत्तर प्रदेश के व्यावसायिक शिक्षा व कौशल विकास, माध्यमिक शिक्षा और बेसिक शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक हुई। केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि उत्तर प्रदेश का कौशल विकास मिशन देश के अन्य राज्यों के लिए मॉडल के रूप में कार्य कर रहा है।

मंत्री कपिल देव अग्रवाल ने बताया कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति, शिक्षा की गुणवत्ता में वृद्धि करने, बच्चों को कौशल विकास से जोड़ने व अन्य विभिन्न बिन्दुओ पर चर्चा कर संबंधित विभागीय अधिकारियों को जरुरी दिशा निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ विशेष रुप से व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास पर बल दे रहे हैं ताकि उनके आत्मनिर्भर भारत- आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश के संकल्प को पूरा किया जा सके।

बैठक में मुजफ्फरनगर विधानसभा सीट से विधायक एवं प्रदेश सरकार में व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) कपिल देव अग्रवाल व प्रदेश के माध्यमिक शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) गुलाब देवी, तथा बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) संदीप सिंह एवं विभागीय अधिकारी सम्मिलित हुए।

रिपोर्ट-दया शंकर चौधरी

About Samar Saleel

Check Also

लखनऊ विश्वविद्यालय को फार्मेसी कौंसिल ऑफ़ इंडिया ने प्रदान की बीफार्म की 100 और डीफार्म की 60 सीट के लिए मान्यता

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें लखनऊ। इंस्टिट्यूट ऑफ़ फार्मास्यूटिकल साइंसेज, लखनऊ विश्वविद्यालय को ...