सांसद संजय सिंह ने सरकारी कर्मचारियों की मांगों को राज्यसभा में उठाया

लखनऊ। राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने देश भर के सरकारी कर्मचारियों की मांग पर पुरानी पेंशन बहाली का मुद्दा प्रमुखता से स्पेशल मेंशन नोटिस के जरिये जोरदार तरीके से उठाया । आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह देश के उच्च सदन में आम आदमी के मुद्दों को लगातार उठाकर उनका मजबूत प्रतिनिधित्व कर रहे हैं ।

स्पेशल मेंशन नोटिस के जरिये सरकारी कर्मचारियो के लिए

सांसद संजय सिंह ने स्पेशल मेंशन नोटिस के जरिये सरकारी कर्मचारियो के लिए पुरानी पेंशन स्कीम पुनः लागू करने की मांग की । उन्होंने कहा कि कर्मचारियों की पेंशन शेयर मार्किट इन्वेस्टमेंट से कोई लाभ नही होगा । शेयर मार्केट के उतार चढ़ाव उनकी जमा-पूँजी के लिए जोखिम भरी साबित होगी। 2004 के बाद नियुक्त हुए सरकारी कर्मचारियों के लिए पुरानी पेन्शन बंद कर दी गयी है, अथवा नयी पेन्शन स्कीम के मुताबिक़ उनकी आय का दस प्रतिशत हिस्सा प्राइवट कम्पनियों द्वारा शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करने का प्रावधान लागू कर दिया गया है। यह पेन्शन स्कीम सरकारी कर्मचारियों के लिए अन्यायपूर्ण है।

कर्मचारी इस्तीफा देने के बाद

एनपीएस के अनुसार, एक कर्मचारी इस्तीफा देने के बाद भी सेवानिवृत्ति तक इस संचित फंड के 20 प्रतिशत से अधिक नहीं निकाल सकता है अथवा तीन साल की सर्विस के बाद ही वह बहुत ही गम्भीर स्थितियों में अपने योगदान का 25प्रतिशत हिस्सा वापस ले सकता हैद्य “एनपीएस के मुताबिक़, रिटायअर्मेंट के बाद मिलने वाली 60प्रतिशत धनराश कर योग्य होगा एवं उसके अलावा 40 प्रतिशत कॉर्पस अनिवार्य रूप से एक वार्षिकी खरीदने के लिए उपयोग किया जाना चाहिए। ऐसे में संजय सिंह ने सरकार से सवाल किया कि किस व्यवस्था के हित के लिए काम किया जा रहा है ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *