कार्तिक पूर्णिमा : परिक्रमा करने वाले श्रद्धालु हो सकते हैं चोटिल

रायबरेली। ऊंचाहार के जमुनापुर से गोकना मोड वाया खरौली मार्ग के निर्माण का कार्य शिथिलता से चलने पर कार्तिक पूर्णिमा पर्व पर इस बार परिक्रमा व स्नार्थियों को मार्ग दुरूस्त न होने पर कठिनाईयो से गुजरना पड़ेगा। परिक्रमा करने वाले श्रद्धालुओ को मार्ग पर पड़ी कंकरीट की वजह से चोटिल होना पड़ सकता है।

जमुनापुर से गोकना मोड वाया खरौली मार्ग

ऊँचाहार तहसील के अन्तर्गत जमुनापुर से गोकनागंगा घाट मोड से तीरकापुरवा मजरे खरौली गंगा घाट के लिये मार्ग के चौडीकरण का कार्य चल रहा है। करोड़ों की लागत से बन रहे इस मार्ग पर मानक के तहत काम नही करवाई जा रही है।मार्ग पर गिट्टियां फैला दी गई जिसके चलते कंकरीट/गिट्टियों भरे सड़क से होकर राहगीर,स्कूली बच्चे व गंगा स्नानार्थी आने के लिए मजबूर है। इस अर्धनिर्मित पथरीले मार्ग के आएदिन लोगो के चोटिल होने की सूचनायें भी मिलती रहती है।

बड़ी घटना होने का इंतजार

इन दिनो इस मार्ग की बदहाली के कारण आम हो गई है। इस मार्ग पर कंकरीट गिट्टियों को कुटाई करके न ढका गया तो आने वाले समय मे बडा हादसा होना तय है। क्योंकि दीपावली के त्यौहार के बाद कार्तिक पूर्णिमा मेला की तैयारी पूरी हो जाती है और परिक्रमा करके गंगा तट तक पहुंचने वाले श्रद्धालुगण दीपावली के दिन अपने अपने घरो मे दूरदराज वाले लोग दीपक जलाकर परिक्रमा पर निकल पडते है जिसमे परिक्रमा करने वालो मे जायस, गौरीगंज, सुल्तानपुर, छतोह, डीह, सलोन, नसीराबाद, जिला प्रतापगढ के सीमावर्ती गांव, रोहनिया, जगतपुर, ऊंचाहार ब्लाक व तहसील क्षेत्रो से हजारों की संख्या मे होते है। इनकी सुखसुविधा के लिये सरकार के भी दावे होते है कि कोई परेशानी नही होनी चाहिए लेकिन मार्ग की बदहाली के कारण यहां पर सुविधाओं की पोल खोल रहा है।

Sdm प्रदीप वर्मा ने कहा

वहीं जिले मे आसीन महत्वपूर्ण पदो पर बैठे जिम्मेदार अधिकारी व पीडब्लूडी के अधिकारी किसी बड़ी के होने का इंतजार कर रहे हैं। अगर इस मार्ग पर गति न दिया गया तो आने वाले समय मे गंगा स्नार्थियो से लेकर परिक्रमा करने वाले लोगों के लिये मुसीबत बनना तय है। परिक्रमा करने वाले श्रद्धालुओं का परिक्रमा के दौरान कंकरीट मे खून से लथपथ होना भी तय है, कोई बड़ी अनहोनी की अशंका है।वहीं एसडीएम प्रदीप वर्मा ने बताया कि प्रकरण को डीएम के माध्यम से पीडब्लूडी विभाग को अवगत कराकर कार्तिक पूर्णिमा से पहले मार्ग पर डामरीकरण करवाने का प्रयास किया जाएगा।

रत्नेश मिश्रा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *