खत्री अधिवेशन व स्वजातीय वैवाहिक परिचय सम्मेलन में 59 रिश्ते तय 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश खत्री सभा के तत्वावधान में आज अपराह्न मुन्नू लाल धर्मशाला चौक में अचल मेहरोत्रा की अध्यक्षता में सम्पन्न हुए खत्री अधिवेशन व स्वजातीय वैवाहिक परिचय सम्मेलन में 59 युवक युवतियों के रिश्ते विवाह के लिए तय हुए।

खत्री अधिवेशन व स्वजातीय वैवाहिक परिचय सम्मेलन में 59 रिश्ते तय 

अधिवेशन में अखिल भारतीय खत्री महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं विधायक रविदास मेहरोत्रा और पूर्व कैबिनेट मंत्री एवं विधायक आशुतोष टंडन का अभिनंदन करते हुए अचल मेहरोत्रा ने कहा कि यह द्वय नेता खत्री समाज के अग्रणी ध्वजावाहक हैं। रविदास मेहरोत्रा ने कहा कि खत्री समाज को सभी क्षेत्रों में अपनी सहभगिता दर्ज करानी है। उन्होने आगे कहा कि खत्री समाज के लोग अनेक क्षेत्रों में उत्कृष्ट उपलब्धि हासिल कर रहे हैं।

समारोह में अचल मेहरोत्रा ने उत्तर प्रदेश खत्री सभा की नई स्वीकृत नियमावली के अनुसार 2023 में चुनाव कराए जाने की घोषणा की, व कार्यकारिणी को भंग करते हुए संस्था के अध्यक्ष, महामंत्री और कोषाध्यक्ष को नई कार्यकारिणी के गठन तक पूर्ववत कार्य करने के लिए अधिकृत किया।

खत्री अधिवेशन एवं स्वजातीय परिचय सम्मेलन में दिल्ली, महाराष्ट्र, उत्तराखण्ड, मध्य प्रदेश, राजस्थान, गुजरात, बिहार, झारखंड, हरियाणा, पंजाब, जम्मू-कश्मीर सहित देश के अन्य प्रांतों से 952 खत्री महिला-पुरुष प्रतिनिधियों ने प्रतिभाग किया। सम्मलेन में 508 खत्री स्वजातीय वैवाहिक परिचय हेतु युवक- युवतियों का पंजीकरण हुआ, जिनमें से 59 रिश्ते विवाह के लिए तय हुए।

इस अवसर पर विमल कपूर, जयकार नाथ कपूर, बनवारी लाल कपूर, डी आर मेहरोत्रा, अनिल चोपड़ा, मधुसूदन टंडन, उज्जवल सचदेवा, के के मेहरोत्रा, संजय धवन सहित अन्य गणमान्य व्यक्तियों के अलावा तमाम खत्री समाज के बन्धु- बांधव उपास्थित थे।

About reporter

Check Also

सौ दिन की पृष्टभूमि

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें Published by- @MrAnshulGaurav Tuesday, July 05, 2022 सौ दिन ...