Breaking News

लखनऊ विश्वविद्यालय के हबीबुल्लाह छात्रावास में पूर्व छात्र का सम्मेलन आयोजित, सीनियर्स ने पुरानी कहानियां सुना कर अपनी यादों को ताजा किया

लखनऊ। विगत वर्ष की भांति इस वर्ष भी लखनऊ विश्वविद्यालय में स्थित हबीबुल्लाह छात्रावास में पूर्ववर्ती छात्र का सम्मेलन का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ शाम 3:00 बजे से विभिन्न खेलों के साथ किया गया। सम्मेलन में मौजूद छात्रावास के पूर्व अत्यंत वासियों का स्वागत तथा छात्रावास भ्रमण कर अपने कमरे के सामने पहुंच कर वर्तमान अंतः वासियों को कुछ पुरानी कहानियां सुना कर अपनी यादों को ताजा किया।

कार्यक्रम का शुभारंभ  विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो आलोक कुमार राय, अति विशिष्ट अतिथि न्यायमूर्ति बृजराज सिंह, विशिष्ट अतिथि अमर हबीबुल्लाह और आईएएस रमाकांत पांडे द्वारा दीप प्रज्वलित कर की गई। तत्पश्चात एलुमनाई संघ द्वारा विशिष्ट विशिष्ट अतिथि बृजराज सिंह, पूर्व शिक्षक डॉ जेपी शुक्ला, डॉ अर्चना शुक्ला, सेवा दाता राजेश सिंह, स्वर्गीय गंगाराम तथा अन्य को मोमेंटो देकर स्वागत किया गया। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के कुलसचिव संजय मेधावी, अधिष्ठाता छात्र कल्याण पूनम टंडन, कुलानुशासक राकेश द्विवेदी, दुर्गेश श्रीवास्तव और अन्य शिक्षक उपस्थित रहे।

अनुभव को साझा करते हुए न्यायमूर्ति बृजराज सिंह ने भावुक होते हुए बताया, जब लाइट चली जाती थी तो हमारे नारे लगते थे। उन्होंने कहा कि मेहनत करने वाले को सफलता जरूर मिलती है। आईएएस रमाकांत पांडे ने कहा हॉस्टल में पढ़ने वाले को कभी भी कोई परेशानी नहीं होती थी।

अन्य पूर्व छात्रों ने भी अपने उन दिनों की कई कहानियां सुनाई और वर्तमान छात्रों को पढ़ाई करते रहने के लिए प्रोत्साहित किया। उन्होंने प्रोवोस्ट डॉ महेंद्र अग्निहोत्री, अनिल सिंह वीरु, अंशुमान, डीके सिंह को यह कार्यक्रम कराने के लिए धन्यवाद दिया। कार्यक्रम के अंत में छात्रावास के प्रोवोस्ट डॉ महेंद्र कुमार अग्निहोत्री द्वारा कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए धन्यवाद ज्ञापन किया गया।

About Samar Saleel

Check Also

उत्‍तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने की उत्‍तर रेलवे की कार्य प्रगति की समीक्षा

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें * रेलपथों पर संरक्षा पर ध्‍यान केन्द्रित * ...