मध्य प्रदेश में विधानसभा की 28 सीटों के लिए हो रहे उपचुनाव के पहले कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है. दमोह से कांग्रेस विधायक राहुल लोधी ने विधायकी से इस्तीफ़ा दे दिया है. लोधी ने प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा को रविवार को भोपाल में विधानसभा में इस्तीफ़ा सौंपा. इससे कांग्रेस के विधानसभा में सदस्यों की संख्या में और कमी आ गई है. अब 230 सदस्यों के सदन में कांग्रेस के 87, बीजेपी के 107 सदस्य हैं. 28 सीटों पर तीन नवंबर को उपचुनाव हो रहे हैं. जिन सीटों पर उपचुनाव हो रहे हैं, वो सभी 2018 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के खाते में थीं.

कांग्रेस के विधायक राहुल लोधी ने इस्तीफ़ा देने के बाद कहा कि मैंने अपनी इच्छा से इस्तीफ़ा दिया है. कांग्रेस विधायक राहुल लोधी ने प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा को अपना इस्तीफा सौंपा है. उपचुनाव की तैयारियों के बीच में कांग्रेस विधायक के इस्तीफा से सियासी सरगर्मी बढ़ने की उम्मीद है. साथ ही राजनीतिक तौर आरोप प्रत्यारोपों का दौर भी शुरू होना तय है.

Loading...

बता दें कि साल 2018 में 15 साल बाद सत्ता में आई कांग्रेस के नेताओं में आपसी विवाद के बाद उन्हें फिर से विपक्ष में बैठना पड़ गया. ज्योतिरादित्या सिंधिया खेमे की कमलनाथ से नाराजगी के चलते सिंधिया के साथ ही 27 विधायकों ने बीजेपी में प्रवेश कर लिया था. इसके साथ ही उन्होंने अपनी विधायकी से इस्तीफा भी दे दिया, जिसके बाद खाली सीटों पर अब चुनाव हो रहे हैं. हालांकि चुनाव वाली कुल 28 में से एक सीट कांग्रेस विधायक के निधन के बाद खाली हुई थी. अब एक और सीट कांग्रेस विधायक के इस्तीफा के बाद खाली हो गई है.