Breaking News

बुलंदशहर: बस ने सड़क किनारे सो रहे श्रद्धालुओं को रौंदा, एक ही परिवार के सात लोगों की मौत

उत्तर प्रदेश में बुलंदशहर के नरोरा क्षेत्र में एक बस ने सड़क किनारे सो रहे सात तीर्थयात्रियों को कुचल दिया, जिससे तीन बालिकाओं और चार महिलाओं की मौके पर ही मृत्यु हो गई। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार ने यहां यह जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि वैष्णो देवी के दर्शन करने के बाद तीर्थ यात्रियों की बस रात करीब डेढ़ बजे नरोरा लिंक मार्ग पर पहुंची। चालक ने बस को वहां रोक दिया। इस दौरान तीन महिलाएं अपनी पुत्रियों के साथ जबकि एक बुजुर्ग महिला भी उनके साथ सड़क किनारे सो गई। कुछ देर बाद एक दूसरी तीर्थ यात्रियों की बस के चालक ने गंगा घाट जाने के लिए बस मोड़ी और आगे बढ़ा, उसे सड़क किनारे सो रहे तीर्थयात्रियों को नहीं देखा और उन्हें कुचल दिया।

उन्होंने बताया कि इस हादसे में हाथरस निवासी मेहन्द्र की 65 वर्षीय पत्नी फूलमती,उदयवीर की पत्नी 32 वर्षीय माला देवी और उसकी तीन साल की बेटी कल्पना के अलावा फिरोजाबाद दक्षिण निवासी सरनाथ सिंह की 35 वर्षीय पत्नी सावित्री और पांच सात्र की पुत्री योगिता के अलावा अलीगढ़ निवासी जितेन्द्र कुमार की पत्नी 22 वर्षीय रेनू और चार साल की बेटी कुमारी संजना की मृत्यु हो गई। इस सिलसिले में विधिक कार्रवाई की जा रही है।

About Aditya Jaiswal

Check Also

मक्खनपुर में नलों में टोंटी न लगवाने पर वसूला जुर्माना

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें फिरोजाबाद। नगर पंचायत मक्खनपुर में तमाम मकान ऐसे ...