Breaking News

Co-WIN पर रजिस्टर किए बिना नहीं लगेगी कोरोना वैक्सीन, जान लें पूरा प्रोसेस

आज यानी 16 जनवरी से कोरोना वैक्सीनेशन अभियान शुरू किया जाएगा. इस अभियान के साथ ही पीएम मोदी CoWIN ऐप भी लॉन्च करेंगे. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने इस ऐप से जुड़ी कई जानकारियां दी हैं. डॉक्टर हर्षवर्धन ने घोषणा की कि कोविन ऐप का सेल्फ रजिस्ट्रेशन मॉड्यूल जल्द ही जारी किया जाएगा. साथ ही वैक्सीनेशन प्रक्रिया के लिए ऐप पर रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य होगा.

ट्विटर पर जानकारी देते हुए डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा कि Covid-19 वैक्सीन लगवाने के लिए कोविन प्लेटफॉर्म पर रजिस्टर्ड होना अनिवार्य है. उन्होंने कहा कि QR कोड आधारित वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट सिर्फ उन्हीं लोगों को दिया जाएगा जिन्होंने कोविन ऐप पर रजिस्ट्रेशन कराया होगा. अब सवाल उठता है कि अगर आपको कोरोना की वैक्सीन लगवानी है तो आप कोविन ऐप पर रजिस्ट्रेशन कब और कैसे करा सकेंगे?

क्या अभी खुद कर सकते हैं रजिस्ट्रेशन?

कोविन ऐप अभी फंक्शन में नहीं आया है. अगर गूगल से आपने इससे मिलता जुलता कोई ऐप डाउनलोड किया है तो यह ऐप फिलहाल काम नहीं करने वाला है. स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने भी इसे लेकर आगाह किया है. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि सेल्फ रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया अभी शुरू होनी है इसलिए लोगों को धोखाधड़ी करने वाले ऐप्स से सावधान रहना चाहिए. उन्होंने आशंका जताई कि कोविन नाम से ही कई फर्जी ऐप भी दिख सकते हैं इसलिए लोगों को इस मामले में बहुत सतर्क रहना चाहिए. मौजूदा CoWin ऐप बैक एंड सॉफ्टवेयर के तौर पर काम कर रहा है जिसे हेल्थवर्क्स के पहले चरण के वैक्सीनेशन के लिए इस्तेमाल किया जाना है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, मार्च के महीने से आम लोगों को ऐप पर रजिस्ट्रेशन की सुविधा मिलेगी.

Loading...

कोविन ऐप e-VIN प्लेटफॉर्म का ही एक रूप है जिसके जरिए वैक्सीन स्टॉक की वास्तविक समय की जानकारी, उसके स्टोरेज, तापमान और COVID-19 वैक्सीन लेने वालों की ट्रैकिंग की जा सकेगी. स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि इस ऐप के तहत 80 लाख लाभार्थियों का पहले से ही रजिस्ट्रेशन किया जा चुका है. फिलहाल इस ऐप के जरिए कोई भी रजिस्ट्रेशन नहीं कर सकता है, केवल अधिकारियों को ही इस ऐप का एक्सेस दिया गया है. आम लोगों के इसके तहत रजिस्टर होने के लिए चार मॉड्यूल बनाए गए हैं.

क्या हैं चार मॉड्यूल?
पहला बैक एंड मॉड्यूल है जिसके आधार पर ऐप फिलहाल काम कर रहा है. दूसरा एडमिनिस्ट्रेटर मॉड्यूल है इसके तहत बताया जाएगा कि एक समय पर कितने लोगों को वैक्सीन दी जा सकती है. इसमें एडमिन वैक्सीन का सेशन भी निर्धारित कर सकता है. रजिस्ट्रेशन मॉड्यूल के तहत कोई भी खुद के वैक्सीनेशन के लिए रजिस्टर कर सकता है. यह मॉड्यूल वैक्सीन का डेटा रिकॉर्ड मेंटेन करने के लिए है. यहां वैक्सीनेशन का डेटा वेरिफाई किया जाएगा और यह भी बताया जाएगा कि अगली खुराक कब दी जाएगी. ब्लॉक स्तर पर भी ऐसे मॉड्यूल के तहत रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है.

क्या होगी प्रक्रिया?

कोविड वैक्‍सीन लगवाने के लिए आपको एक फोटो आईडी प्रूफ के साथ ऑनलाइन रजिस्‍टर कराना होगा. सरकार वैक्‍सीन की उपलब्‍धता और प्रॉयरिटी लिस्‍ट में आपकी पोजिशन के आधार पर वैक्सीनेशन का शेड्यूल बनाएगी. इसके बाद, आपको SMS भेजकर बताया जाएगा कि आपको वैक्सीन कब और कहां लगाई जाएगी. निर्धारित किए गए वक्त पर आपको वैक्‍सीनेशन सेंटर जाना होगा. वैक्सीनेशन सेंटर पर रजिस्ट्रेशन के वक्त दिया गया फोटो आईडी भी अपने साथ ले जाना होगा.

Loading...

About Ankit Singh

Check Also

गर्मियों की चिलचिलाती धूप से ऐसे करें त्वचा का करें बचाव

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें गर्मियों की चिलचिलाती धूप में जब भी हम ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *