Breaking News

डीएम ने पैथलॉजी संचालकों को दी चेतावनी, कहा- जांच के नाम पर अधिक शुल्क वसूला तो कार्रवाई

फ़िरोजाबाद। डेंगू महामारी के दौर में जांच के नाम पर अधिक वसूली करने वाली पैथलॉजी को डीएम ने कार्यवाही की चेतावनी दी है.उन्होंने कहा कि कोई पैथलॉजी निर्धारित शुल्क से ज्यादा पैसे न वसूले साथ ही जो गंभीर मरीज है उनकी जानकारी स्वास्थ विभाग और प्रशासनिक अधिकारियों को दें जिससे मरीज के इलाज के बारे में जानकारी मिल सके।

डेंगू, संचारी रोंगों की प्रभावी रोकथाम व नियंत्रण स्थापित करने के लिए जिला प्रशासन निरंतर हर सम्भव प्रयास कर रहा है, इसके लिए जिलाधिकारी चंद्रविजय सिंह द्वारा निरंतर भ्रमण, निरीक्षण व बैठकंे कर समीक्षा की जा रही है। इसी क्रम में जिलाधिकारी ने सोमवार को एस पी सिटी कार्यालय में शहर के सभी पैथोलोजी संचालकों के साथ एक आवश्यक बैठक कर उन्हे निर्देश दिए है कि वह मरीजों से मेडिकल जांचों के निर्धारित मूल्य जिसमें डेंगू जांच 500 रू।एवं सीवीसी जांच 180 रू से अधिक न वसूले जाए। जिलाधिकारी ने सभी पैथोलॉजी संचालकों से स्पष्ट व कडें निर्देश दिए है कि मरीजों से दिए गए निर्धारित मूल्यों से अधिक वसूली के प्रकरण संज्ञान में आने पर सम्बन्धित के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जाएगी।

उन्होने पैथोलॉजी स्वामियों से कहा कि इस परेशानी के दौर में मानवीय संवेदनाओं को आगे रखकर काम करें। उन्होने सभी पैथोलॉजी स्वामियों को निर्देश दिए है कि मेडिकल जांच के दौरान डेंगू पॉजिटीव व तीस हजार से कम प्लेटेटस एवं गम्भीर मरीजों के नाम, पूरा पता व मोबाइल नंबर सहित पूर्ण विवरण एसडीएम सदर, नगर मजिस्ट्रेट, व स्वास्थ्य विभाग के साथ बनाए गए वाटसअप ग्रुप पर शेयर करते रहें, ताकि लेखपाल, राजस्व विभाग व स्वास्थ्य कर्मी सम्बन्धित मरीजों के परिजनों से सम्पर्क कर पता करते रहें कि मरीज का उपचार कहां चल रहा है उसकी कैसी स्थिति है और उसे इलाज में कोई परेशानी तो नही हो रही है।

जिलाधिकारी ने बताया कि शहर में अनाधिकृत चिकित्सकों को चिन्हित कर कार्यवाहियां भी हो रहीं है, ताकि गलत दवा व उपचार के कारण किसी की मृत्यु न होने पाए। इसका प्रभाव भी दिख रहा है, जिससे सरकारी अस्पतालों में मरीजों की संख्या भी बढी है, यह इस बात को दर्शाती है कि जिला प्रशासन द्वारा अनाधिकृत चिकित्सकों पर कार्यवाही के बाद मरीज अब सीधे सरकारी अस्पतालों में आ रहे है और उन्हे अच्छा इलाज मिल रहा है। उन्होने बताया कि ओपीडी को और सुलभ बनाने के लिए सौ शैय्या परिसर में नयी बिल्डिंग के ग्राउण्ड फ्लोर पर ओपीडी को चालू कराया जा रहा है, ताकि आने वाले मरीजों को और अधिक सहुलियत मिल सके।

बैठक में पुलिस अधीक्षक मुकेश चंद्र मिश्र, सिटी मजिस्ट्रेट गुलशन कुमार, एसडीएम राजेश कुमार, क्षेत्राधिकारी के अलावा स्वास्थ्य विभाग व शहर के पैथोलोजिस्ट व अन्य अधिकारी मौजूद रहें।

रिपोर्ट-मयंक शर्मा

About Samar Saleel

Check Also

मंत्री स्वाति सिंह ने दिया सरोजनी नगर के विकास कार्यों का ब्योरा

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें लखनऊ। प्रदेश की महिला कल्याण एवं बाल विकास ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *