Breaking News

मिडियम फ्लेम पर जैतून के तेल से खाना पकाकर खाने से मिलते है बेहतरीन फायदे

जैतून के तेल (Olive Oil) को बेहद पौष्टिक माना जाता है, बेहतर है कि आप एक्स्ट्रा वर्जिन ऑलिव को चुनें, इसमें भी कोल्ड-प्रेस्ड ऑलिव ऑयल को बेस्ट माना जाता है. समें मोनोअनसैचुरेटेड फैट शामिल होता है. अगर मिडियम फ्लेम पर जैतून के तेल से खाना पकाएंगे तो इससे बैड कोल्स्ट्रॉल पर लगाम लगेगी.

मूंगफली का तेल

मूंगफली का तेल (Peanut Oil) भी स्वास्थ्यवर्धक होता है. इसे तैयार करने में न्यूट्रिएंट्स का नुकसान नहीं होता. ये सब्जियों और मीट को भूनने के लिए पर्फेक्ट है. अगर आप भोजन को डीप फ्राइ नहीं कर रहे हैं, तो ये कोलेस्ट्रॉल को नहीं बढ़ाएगा.

तिल का तेल

तिल का तेल (Sesame Oil) कुकिंग के सेहत के लिए अच्छा माना जाता है. इसके एक चम्मच में 5 ग्राम से ज्यादा मोनोअनसैचुरेटेड फैट और 2 ग्राम सैचुरेटेड फैट के साथ वसा की संतुलित मात्रा होती है. तिल के तेल का इस्तेमाल सब्जियों को भूनने या सलाद ड्रेसिंग के एक कंपोनेंट के रूप में किया जा सकता है. ये न सिर्फ टेस्टी होता है, बल्कि बैड कोलेस्ट्रॉल को भी कम करने में मदद करता है.

एवोकाडो ऑयल

एवोकाडो ऑयल (Avocado Oil), जो फल के गूदे को प्रेस करके बनाया जाता है, हाई टेम्प्रेचर पर भी स्वादिष्ट होता है. सभी तेलों में से, एवोकैडो के तेल में मोनोअनसैचुरेटेड फैट का कंसंट्रेशन सबसे ज्यादा होती है. इसमें एंटीऑक्सिडेंट होता और ये दिल की सेहत के लिए अच्छा माना जाता है, हालांकि महंगा होने की वजह से कई लोग इसका इस्तेमाल नहीं कर पाते हैं.

चिया सीड्स ऑयल

चिया सीड्स ऑयल (Chia Seeds Oil) को सेहत के लिहाज से इसलिए फायदेमंद माना जाता है क्योंकि इसमें अल्फा-लिनोलेनिक एसिड (Alpha-Linolenic Acid) भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जो दिल की सेहत के लिए ओमेगा -3 फैटी एसिड (Omega-3 Fatty Acids) के उत्पादन में योगदान देता है. साथ ही इसमें भरपूर मात्रा में फाइबर पाया जाता है जो कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है.

About News Room lko

Check Also

घर की रसोई में इन छोटी-छोटी बीमारियों का इलाज, आज से ही शुरू करें सेवन

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें सर्दियों में कई अनचाही मौसमी बीमारियों हो जाती ...