Breaking News

राज्यपाल आनन्दी बेन पटेल ने शौर्य और पराक्रम का दिया संदेश

लखनऊ। राज्यपाल आनन्दी बेन पटेल ने अनुसार, शिक्षा व्यवस्था ऐसी होनी चाहिए कि हर व्यक्ति प्रारंभ से ही सेना में जाने के लिए सदैव तत्पर रहे। हर क्षण अपने देश के प्रति लगाव की भावना अपने हृदय में सदैव रखे। यदि देश का हर व्यक्ति अपने दायित्वों का निर्वहन सैनिकों की तरह समर्पित होकर करे तो निश्चय ही हमारा देश एक दिन विश्वगुरू अवश्य बनेगा।

राज्यपाल आनन्दी बेन पटेल ने शौर्य और पराक्रम का दिया संदेश

हमारे सपने तभी साकार होंगे जब हम अपने दायित्वों का निर्वहन कुशलतापूर्वक करेंगे। उन्होंने कहा कि कारगिल युद्ध अत्यन्त विपरीत परिस्थतियों में भारतीय सेना के विजय की महान गाथा है। जिसमें सम्पूर्ण राष्ट्र का एक-एक नागरिक चट्टान की तरह हमारी सेनाओं के साथ खड़ा था।

आनंदीबेन पटेल कारगिल विजय दिवस के अवसर पर अखिल भारतीय पूर्व सैनिक सेवा परिषद एवं संस्कृति विभाग द्वारा सेन्ट जोसेफ स्कूल में आयोजित एक भव्य कार्यक्रम को संबोधित किया। इस अवसर पर उन्होंने अखिल भारतीय पूर्व सैनिक सेवा परिषद द्वारा रचित स्मारिका तथा अखिल भारतीय पूर्व सैनिक सेवा परिषद लखनऊ द्वारा रचित पुस्तक ‘शौर्य और पराक्रम’ का विमोचन भी किया।

About reporter

Check Also

बलिदान दिवस के अवसर पर सीएम योगी ने किया बलिया का दौरा व अमर सपूतों को दी श्रद्धांजलि

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज बलिया दौरे पर हैं। ...