Breaking News

Nitin Gadkari : आपसी सहमति से हो मंदिर का निर्माण

दिल्ली। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी Nitin Gadkari ने मंगलवार को कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण आपसी सहमति से होना चाहिए और यह कोई सांप्रदायिक या धार्मिक मुद्दा नहीं है। वरिष्ठ भाजपा नेता ने कहा कि यह विषय भारत की समृद्ध संस्कृति, धरोहर और इतिहास से जुड़ा है।

Nitin Gadkari ने कहा

Nitin Gadkari ने ‘कहा, ‘‘अयोध्या का मुद्दा सांप्रदायिक नहीं है और धार्मिक भी नहीं है। भगवान राम हमारे इतिहास, संस्कृति और धरोहर के प्रतीक हैं। यह साबित हो गया है कि वहां मंदिर था। अगर हिंदुस्तान में जन्म भूमि पर राम मंदिर नहीं बनाया जा सकता तो कहां बनेगा? करोड़ों लोगों की भावनाएं और कामना है कि वहां राम मंदिर का निर्माण होना चाहिए।’’
उन्होंने कहा कि भाजपा के एजेंडे में भी यह भावना थी और आगे भी रहेगी।

गडकरी ने कहा, ‘‘इसके तीन रास्ते हैं। मामला अदालत में है। आपसी सहमति से यह हो सकता है या संसद में दो तिहाई बहुमत के माध्यम से किसी फैसले से हो सकता है। लेकिन मेरा मानना है कि यह आपसी सहमति से होना चाहिए। हमारी भावना ‘सर्वधर्म समभाव’ की है।’’ उन्होंने कहा कि बड़ी संख्या में मुस्लिम समुदाय के लोग इस मुद्दे के समाधान के पक्ष में हैं।

Loading...

 

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

निर्भया काण्ड के आरोपियों को सजा दिलाने में इस बस ने निभाया अहम किरदार

16 दिसंबर 2012 की रात दिल्ली की सड़कों पर जिस चलती बस निर्भया (Nirbhaya) नाम की ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *