Breaking News

जौनपुर स्टेशन पर आयोजित की गई राजभाषा कार्यान्वयन समिति की बैठक

लखनऊ। राजभाषा हिंदी के उत्थान, प्रचार-प्रसार सहित हिंदी के अधिकाधिक प्रयोग पर बल देते हुए इस दिशा में उत्तर रेलवे लखनऊ मंडल द्वारा समय समय पर संपन्न किये जाने वाले विभिन्न कार्यकलापों के अंतर्गत आज (24 नवंबर) उत्तर रेलवे, लखनऊ मंडल के जौनपुर जं. स्टेशन पर राजभाषा कार्यान्वयन समिति की त्रैमासिक बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में स्टेशन पर #राजभाषा हिंदी के प्रचार-प्रसार व प्रगति की समीक्षा की गई तथा समिति के संयोजक द्वारा राजभाषा संबंधी तिमाही रिपोर्ट प्रस्तुत की गई।

इस रिपोर्ट में बताया गया कि स्टेशन पर राजभाषा संबंधी प्रावधानों का पूर्णतया पालन किया जा रहा है। स्टेशन पर सभी नाम व सूचना पट्ट हिंदी-द्विभाषी रूप में लगाए गए हैं एवं स्टेशन पर उद्घोषणा का कार्य हिंदी और अंग्रेजी में क्रमवार किया जाता है साथ ही डिजिटल रूप में प्रदर्शित की जाने वाली सूचनाओं को भी हिंदी में प्रदर्शित किया जाता है। इस बैठक में प्रभारी स्टेशन अधीक्षक आशुतोष कुमार पाठक ने स्टेशन पर राजभाषा #हिंदी का नियमानुसार पालन करने का निर्देश देते हुए कहा कि जब भी नाम पट्टिकाओं, नाम पट्ट, सूचना पट्ट, मुहर तथा रजिस्टर आदि को बदला जाए तो यह ध्यान रखा जाए कि नए बनाए जाने वाले सभी प्रकार की पट्टिकाओं, मुहर, रजिस्टर व बोर्डों को राजभाषा नियमों के अनुरूप निश्चित ही हिंदी-द्विभाषी रूप में ही बनवाई जाएँ।

जौनपुर स्टेशन पर ‘निराला’ हिंदी पुस्तकालय भी स्थापित है एवं जिसका नियमित रूप से संचालन किया जा रहा है।पुस्तकालयाध्यक्ष अजीत कुमार ने उपस्थित सभी कर्मियों से पुस्तकालय का उपयुक्त लाभ उठाने का आग्रह किया। रेल कर्मियों ने पुस्तकालय में रेलवे नियमों से संबंधित सामग्री उपलब्ध कराने का अनुरोध किया।

वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबन्धक रेखा शर्मा ने बताया कि इस बैठक में उपस्थित कर्मियों को राजभाषा नियमों से अवगत कराते हुए राजभाषा प्रोत्साहन संबंधी अनेक योजनाओं की जानकारी दी गई तथा सभी से ये अपेक्षा की गयी कि वे सभी अपने सरकारी कामकाज एवं अपने दैनिक जीवन में राजभाषा के अधिकाधिक प्रयोग को अपनाते हुए अपने सहकर्मियों को भी हिंदी के अधिकाधिक प्रयोग हेतु प्रेरित करेगें।

रिपोर्ट-दया शंकर चौधरी

About Samar Saleel

Check Also

पेड़ से लटका मिला बाघ का शव, स्निफर डॉग की मदद से शुरू सर्चिंग

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें मध्यप्रदेश के पन्ना टाइगर रिजर्व में एक हैरान ...