Breaking News

बुढ़ापा जीवन का सत्य है, बच्चे अपने बूढ़े माता-पिता को सहारा बने: राज्यपाल

औरैया। उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनन्दीवेन पटेल ने गुरूवार को जिले में खराब मौसम के बीच अपने भ्रमण कार्यक्रम के दौरान आनेपुर स्थित माधव हैप्पी ओल्ड एज होम (वृद्धाश्रम) में पहुंचकर अपनों से बिछुड़े वृद्धजनों से मुलाकात की कर उनका हाल जाना और अपने भावों को रखते हुए उनमें जीवन जाने की नई ऊर्जा का संचार किया।

इस दौरान उन्होंने कहा कि बुढ़ापा जीवन का सत्य है, जीवन के इस पड़ाव में अपने ही सहारा बनते हैं। उन्होंने कहा कि माता-पिता बच्चों को पढ़ाने के जीवन जरने की सही राह दिखाते हैं ताकि वह परिवार और समाज में मददगार बनें लेकिन कुछ नासमझ बच्चे बड़े होने के बाद भटक जाते हैं, जिस कारण बूढ़े माता पिता को इधर-उधर भटकना पड़ता है। उन्होंने कहा कि जबकि इस उम्र में बच्चों को उनकी पीड़ा समझनी चाहिए, बुढ़ापे की लाठी कोई बोझ नहीं होती है, बस जरूात सकारात्मक सोच और विचारों की है। उन्होंने कहा कि आज का दौर पूरी तरह से बदल चुका है। युवाओं में मानवीय गुणों का समावेश होना चाहिए।

इस दौरान राज्यपाल ने वृद्धजनों से अलग-अलग बातचीत कर उनकी समस्याएं जानीं और कोरोना से बचाव हेतु सभी से कोवैक्सीन लगवाने के बारे में जानकारी ली और कहा कि जिन लोगों ने वैक्सीन नहीं लगवाई है वह प्राथमिकता के आधार पर वैक्सीन लगवा लें। उन्होंने वृद्धाश्रम के लिए उपयोगी आवश्यक वस्तुओं वाशिंग मशीन, फ्रिज, व सिलाई मशीन आदि वृद्धजनों में वितरण कर सभी को आर्शीवाद दिया।

राज्यपाल के आगमन की खुशी में वृद्धजनों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस मौके पर कृषि राज्यमंत्री लाखन सिंह राजपूत, जिलाधिकारी सुनील कुमार वर्मा व पुलिस अधीक्षक अपर्णा गौतम आदि मौजूद रहीं।

रिपोर्ट-शिव प्रताप सिंह सेंगर

About Samar Saleel

Check Also

चतुरी चाचा के प्रपंच चबूतरे से…चारिन दिन मा सब पानी-पानी होय गवा

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें ककुवा ने भारी बारिश, तेज आंधी और जल ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *