Breaking News

संपूर्ण समाधान दिवस में किसी भी स्तर से प्राप्त शिकायतों को ससमय करें निस्तारण – जिलाधिकारी

• जिलाधिकारी ने कहा, शिकायत के निस्तारण की जानकारी संबंधित को अवश्य दें 

• प्राप्त शिकायती आवेदन पर स्पष्ट आख्या अंकित करें, जिससे शिकायतकर्ता परेशान न हो

औरैया। जिलाधिकारी प्रकाश चन्द्र श्रीवास्तव एवं पुलिस अधीक्षक चारू निगम की अध्यक्षता में आयोजित तहसील अजीतमल के सभागार में सम्पूर्ण समाधान दिवस पर ग्रामीण क्षेत्र से आए शिकायतकर्ताओं की समस्याओं/ शिकायतों को सुनते हुए संबंधितों को निर्देशित किया कि शिकायतों का निस्तारण निष्पक्षता के साथ ससमय किया जाए। जिससे कोई भी फरियादी को शिकायत के लिए बार-बार न भटकना पड़े। उन्होंने कहा कि किसी भी स्तर से प्राप्त शिकायतों की समीक्षा संबंधित अधिकारी समय से करते हुए निस्तारण सुनिश्चित करें। जिससे किसी भी स्तर पर शिकायत लंबित न रहने पाए और आवेदक को बार-बार परेशान न होना पड़े।

इस अवसर पर रामगोविन्द निवासी पैगम्बरपुर ने प्रार्थना पत्र देकर अवगत कराया कि ग्राम प्रधान द्वारा हैंडपंप का रिवोर फर्जी दिखाकर धनराशि आहरित कर ली गई है, जांच कराई जाए। जिस पर जिलाधिकारी ने डीपीआरओ को निर्देशित किया कि उक्त प्रकरण की जांच कराकर अग्रिम कार्यवाही करें, सुशीला देवी पत्नी शिव वीर निवासी सराय गांधीनगर अमिलिया ने अवगत कराया कि वह गरीब है और आवास नहीं मिला है।

जिस पर जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी अजीतमल को निर्देश दिए कि जांच कर आवश्यक कार्रवाई करें, अनूप कुमार पालीवाल पुत्र जयनारायण पालीवाल निवासी बाबरपुर अजीतमल ने अवगत कराया कि पेयजल पूर्ति की समस्या टंकी चालू न होने के कारण बनी रहती है जिस पर जिलाधिकारी ने अधिशासी अधिकारी नगर पंचायत बाबरपुर को निर्देश दिए कि तैयार टंकी को शीघ्र संचालित किया जाए, बलराम सिंह पुत्र बद्री प्रसाद निवासी अयाना ने आवेदन देकर बताया कि ग्राम निवासी अवधेश सिंह नाजायज परेशान करता है जिस पर जिलाधिकारी ने थानाध्यक्ष अयाना को जांच कर आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने बीएसए को निर्देश दिए कि स्कूलों की विद्युत लाइन से यदि कहीं कोई पेड़ आदि छू रहा हो और करंट आने की संभावना हो तो तत्काल उसकी टहनी आदि कटवाए, जिससे किसी भी प्रकार की घटना से बचा जा सके।

उन्होंने प्राप्त आवेदनों को सभी संबंधित अधिकारियों को प्राप्त कराए जाने के उपरांत निर्देश दिए कि समस्याओं का निस्तारण तेजी के साथ किया जाये। निस्तारण में किसी भी स्तर पर बरती गई लापरवाही के लिए संबंधित को जिम्मेदार मानते हुए कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी।
पुलिस अधीक्षक चारु निगम ने पुलिस विभाग से संबंधित शिकायतों को सुना और निर्देशित किया कि शिकायतों का निस्तारण गुणवत्ता के साथ किया जाए, जिससे पुनः उसके संबंध में शिकायतकर्ता को परेशान न होना पड़े।

इस अवसर पर कुल 112 मामले आये, जिसमे से 10 मामलों का मौके पर निस्तारण किया गया तथा शेष 102 मामलों का निस्तारण निर्धारित समय सीमा के अन्तर्गत करने के लिए जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये।
इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ अर्चना श्रीवास्तव, उप जिलाधिकारी अखिलेश कुमार, परियोजना निदेशक हरेंद्र सिंह, जिला पूर्ति अधिकारी, प्र. जिला विद्यालय निरीक्षक, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, सीओ अजीतमल, तहसीलदार, नायब तहसीलदार, सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

रिपोर्ट-शिव प्रताप सिंह सेंगर 

About Samar Saleel

Check Also

पूर्वाेत्तर रेलवे लखनऊ मण्डल ने स्वतंत्रता दिवस पर यूटीएस (अनारक्षित टिकट प्रणाली) ’मोबाइल एप’ का किया प्रमोशन

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें लखनऊ। आजादी का अमृत महोत्सव के अन्तर्गत आज ...