Breaking News

Unchahar : नहरों मे उड़ रही धूल , सूखे है खेत

ऊंचाहार। ऊंचाहार Unchahar क्षेत्र की नहरे सुखी है ,उसमे धूल उड़ रही है ,किसान खेत मे धान के लिए नर्सरी की तैयारी मे लगा है, ऐसे मे कैसे काम चले यह बड़ी समस्या है।
ऊंचाहार क्षेत्र मे करीब दो दर्जन से अधिक छोटी बड़ी नहरे है ,किसी समय मे यही नहरे सिचाई का एकमात्र साधन हुआ करती थी ,समय के साथ सिचाई के अन्य साधन बने,लेकिन आज भी बहुत बड़ी संख्या मे किसान नहरों पर ही निर्भर है। इस समय मूंग, उड़द ,पिपरमेंट , हरी सब्जियों के साथ साथ धान की फसल के लिए नर्सरी की तैयारी मे लगा हुआ है । लेकिन क्षेत्र की सभी नहरे सुखी पड़ी है । ज्यादातर नहरों की तो कई सालो से सफाई तक नहीं हुई है। जिसके कारण उसमे सिल्ट जमा है । और टेल तक पानी भी नहीं पहुँच सकता है ।

नहीं हुई Unchahar क्षेत्र की नहरों की सफाई

ऊंचाहार Unchahar क्षेत्र की कई नहरों की सालो से सफाई नहीं हुई है। बहेरवा रजबहा मे चांदन का पुरवा के पास नहर मे इतनी सिल्ट जमा है कि यहाँ पर नहर अपना अस्तित्व तक खो चुकी है । यही हाल क्षेत्र की होरैसा माइनर , केवलपुर माइनर आदि नहरों का भी है । नहरों की सफाई हर साल केवल कागजो पर हो जाती है , लेकिन नहरों की दशा धरातल पर ज्यो की त्यो बनी हुई है ।

नहरों पर हो गया अवैध कब्जा
नहरों की देख रेख व साफ सफाई न होने के कारण नहरे तक गायब हो चुकी है , जहां पहले कभी नहरे हुआ करती थी , वहाँ अब गाँव बस चुके है ,क्षेत्र के नजनपुर अल्पिका पूरी पूरी की समाप्त हो गयी है , इस नहर मे स्थान अब दर्जनो मकान बने हुए है , नहर की खोदाई भी कई बार ही चुकी है , लेकिन जहां पर घर बने है , वहाँ की खोदाई कैसे हो ? यह बड़ी समस्या है।

Loading...

 

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

वरिष्ठ पत्रकार के निधन पर रालोद अध्यक्ष ने जताया दुख

लखनऊ। राष्ट्रीय लोकदल के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ. मसूद अहमद ने जाने-माने वरिष्ठ पत्रकार तथा कई ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *