Breaking News

A-SAT परीक्षण से पैदा हुए टुकड़ों से ISS को कोई खतरा नहीं

वॉशिंगटन। पेंटागन ने शुक्रवार को कहा कि भारत द्वारा किए गए उपग्रह भेदी मिसाइल परीक्षण (A-SAT) के बाद अमेरिका इस परीक्षण की वजह से पैदा हुए मलबे के 250-270 टुकड़ों पर नजर रख रहा है। उसने कहा कि इससे अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (ISS) को खतरा नहीं है।

मलबे के 250 टुकड़ों पर सक्रियता से नजर

अमेरिकी रणनीतिक कमान के ज्वाइंट फोर्स स्पेस कम्पोनेंट कमांड (JAFSCC) ने कहा कि भारत ने जिस A-SAT का परीक्षण बुधवार को किया था उससे जुड़े मलबे के 250 टुकड़ों पर सक्रियता से नजर रखी जा रही है। जेएफएससीसी ने कहा कि वह मलबे के पृथ्वी के वायुमंडल में प्रवेश करने तक इन टुकड़ों पर नजर रखेगा।

जेएफएससीसी और वायुसेना की 18 अंतरिक्ष नियंत्रण स्क्वार्डन मलबे के

अमेरिकी वायु सेना अंतरिक्ष कमान के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल डेविड डी थॉम्पसन ने कांग्रेस में एक सुनवाई के दौरान बृहस्पतिवार को कहा कि जेएफएससीसी और वायुसेना की 18 अंतरिक्ष नियंत्रण स्क्वार्डन मलबे के विभिन्न 270 टुकड़ों पर रख रही है। सांसदों के एक प्रश्न के जवाब में थॉम्पसन ने कहा कि इस समय अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन को खतरा नहीं है।

Loading...

भारत ने चीन के मुकाबले कम गैर जिम्मेदाराना परीक्षण

हावर्ड-स्मिथसोनियन सेंटर फॉर एस्ट्रोफिजिक्स के जोनाथन मैक्डावल ने कहा कि भारत ने चीन के मुकाबले कम गैर जिम्मेदाराना तरीके से परीक्षण किया है। उन्होंने बताया,‘‘हमें अभी तक नहीं पता कि कितना मलबा है और कितनी ऊंचाई पर है। टुकड़ों को सूचीबद्ध करने में कम से कम कुछ दिन तो लग जाएंगे। उन्होंने कहा कि जैसे ही इस बारे में पूरी सूची तैयार कर ली जाएगी तभी पता चलेगा कि स्थिति कितनी खराब है। (एजेंसी)

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

शर्मनाक: अब पटना में कॉलेज छात्रा के साथ दरिंदों ने किया गैंगरेप

देश में लड़कियों और महिलाओं के साथ गैंगरेप और दुष्कर्म की वारदातें कम होने का ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *