Breaking News

 विश्व स्तनपान सप्ताह : 6 माह तक बच्चों को कराया जाये सिर्फ स्तनपान, कम वजन के बच्चों की सेवा कंगारु मदर की तरह करें

बिधूना। विकास खंड अछल्दा के ग्राम ऐली में विश्व स्तनपान सप्ताह मनाया गया। इस मौके पर सभी गर्भवती महिलाओं, धात्री महिलाओं एवं अभिवावकों को बुलाया तथा स्तनपान के बारे में जानकारी दी।

इस मौके पर शनिवार को आंगनबाड़ी कार्यकत्री सम्पूर्णा त्रिपाठी ने बताया कि विश्व स्तनपान सप्ताह प्रत्येक बर्ष 01 से 07 अगस्त तक मनाया जाता है। उन्होंने कार्यक्रम में मौजूद सभी गर्भवती, धात्री महिलाओं एवं अभिवावकों से कहा कि शिशु तभी स्वस्थ रह सकता है जब उसे 6 माह तक सिर्फ स्तनपान ही कराया जाये। छह माह पूर्ण होने के बाद बच्चे को स्तनपान के साथ-साथ ऊपरी आहार भी दे सकते हैं।

उन्होंने बताया कि बच्चे जन्म के समय कम वजन के हैं या कम दिनों के हुए हैं। तो ऐसे में बच्चों की सेवा कंगारु मदर की तरह करना चाहिए। जिस तरह कंगारु बच्चे को अपने पेट में चिपकाए रहता है उसी तरह मां को अपने बच्चे को छाती से लगाकर रखना चाहिए और जब वह अच्छा स्वास्थ्य हो जाए तब उसको बाहरी वातावरण में लाना चाहिए।

इस अवसर पर WHO सुबोध चतुर्वेदी तथा एएनएम आरती यादव ने स्तनपान के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि बच्चे का पहला टीका मां का दूध होता है। जिसको कोलेस्ट्रम कहते हैं‌। जो कि बच्चे को जन्म के एक घंटे के अंदर बच्चे को पिला देना चाहिए। बताया कि यह दूध बच्चे को किसी भी तरह के संक्रमण से बचाता है और मां व बच्चे का आत्मिक जुड़ाव भी बढ़ता है। इस मौके पर आंगनबाड़ी कार्यकत्री सम्पूर्णा त्रिपाठी ने गर्भवती एवं धात्री महिलाओं को माल्यार्पण कर चूड़ियां भेंट की। कार्यक्रम में सरला देवी, रेखा देवी, विट्टन देवी, अंजना, कीर्ति, आरती व प्रियंका आदि महिलाओं ने सहभागिता की।

रिपोर्ट – संदीप राठौर चुनमुन

About Samar Saleel

Check Also

आज़ादी की 75वीं वर्षगांठ पर उत्तर रेलवे मंडल में भव्य आयोजन

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें उत्साह, उमंग और जोश के साथ मनाया गया ...