Breaking News

“मौत एक हत्या हो सकती है” : फोरेंसिक सर्जन डॉ. उमाथन

बॉलीवुड की पहली महिला सुपरस्टार श्रीदेवी की अचानक मौत की खबर ने दुनिया को हिला दिया था। 24 फरवरी साल 2018 को सुबह खबर आई कि दुबई में श्रीदेवी का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया लेकिन जैसे -जैसे दिन आगे बढ़ा मौत के पीछे का कारण क्या है ये गहराता चला गया। लगातार जांच के बाद पुलिस और डॉक्टर्स की तरफ से ये कहा गया की श्रीदेवी के निधन बाथटब में डूबने के कारण हुआ। जिसके बाद श्रीदेवी के शव दुबई से भारत लाया। राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता अभिनेत्री श्रीदेवी की अंतिम यात्रा में प्रशंसकों का जन सैलाब उमड़ा।

Loading...

अभिनेत्री के निधन के एक साल बाद, मीडिया पोर्टलों पर एक नई रिपोर्ट सामने आई है जिसमें मौत के कारणों के बारे में चौंकाने वाले आरोप लगाए गए हैं। खबरों के मुताबिक, केरल कौमुदी अखबार ने जेल डीजीपी ऋषिराज सिंह के हवाले से कहा कि अभिनेत्री की मौत एक दुर्घटना नहीं बल्कि हत्या थी। उन्होंने कथित तौर पर दावा किया कि उनके दिवंगत मित्र, फोरेंसिक सर्जन डॉ. उमाथन ने दावा किया कि मौत एक हत्या हो सकती है “अभिनेत्री श्रीदेवी की मौत आकस्मिक नहीं थी, यह साबित करने के लिए कई परिस्थिति जन्य टुकड़ों को इंगित किया।”

डीजीपी ऋषिराज सिंह ने दावा किया कि डॉक्टर ने तर्क दिया कि “श्रीदेवी बिना किसी के धक्का दिए बाथटब में मौजूद एक फुट पानी में नहीं डूबेंगी। रिपोर्टों में यह भी आरोप लगाया गया है कि दिल्ली पुलिस के एक सेवानिवृत्त एसीपी, जिनका नाम वेद भूषण है, ने दावा किया कि उन्हें श्रीदेवी के होटल के कमरे पर नज़र रखने की अनुमति नहीं थी। हालाँकि, उन्होंने श्रीदेवी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में, बगल के कमरे में संभावित घटनाओं का उल्लेख करते हुए ‘आकस्मिक डूबने’ की संभावना को खारिज कर दिया। भूषण ने यह भी बताया कि दुबई पुलिस की फॉरेंसिक रिपोर्ट में यह कहा गया था कि निष्कर्ष असंतोषजनक थे और कई सवाल ऐसे थे जो अनुत्तरित थे।
Loading...

About Jyoti Singh

Check Also

‘फिर तेरा टाइम आएगा’ के लिए साथ आए देश के नामचीन कलाकार… मिलकर पिरोए सुर

“क्यूं करता है फ़िक्र, आखिर होगा क्या, तू सोच के देख ज़रा , क्या क्या ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *