Breaking News

कुंभ देखने आएंगे 192 देशों के राजनयिक : योगी

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि जनवरी में वाराणसी में होने वाले प्रवासी भारतीय सम्मेलन के पूर्व 192 देशों के राजनयिक कुंभ देखने इलाहाबाद आएंगे। इसके लिए उनको आमंत्रण भेजा जा रहा है। सरकार का प्रयास है कि देश के सभी छह लाख गांवों से भी कम से कम एक-दो लोगों का कुंभ में प्रतिनिधित्व हो। सोमवार को इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में उप्र ट्रेवेल्स मार्ट-18 के कार्यक्रम को संबोधित करते हुए योगी ने कहा कि पर्यटन के विकास के लिए उप्र बेहतरीन संभावना है। राम, कृष्ण, बुद्ध के अलावा यह सूफी संतों की धरती है। काशी, मथुरा, अयोध्या, नैमिषारण्य और शक्तिपीठों के नाते यहां धार्मिक एवं अध्यात्मिक, दुधवा और सोनभद्र जैसी जगहों की वजह से इको टूरिज्म और बुंदेलखंड में हेरिटेज टूरिज्म के विकास की असीम संभावनाएं हैं।

कुंभ : विदेश के टूर आपरेटर्स के लिए मौका

योगी ने कहा कि सुरक्षा और आवागमन के अच्छे साधन पर्यटकों के लिए जरूरी चीजें हैं। उत्तर प्रदेश सबसे सुरक्षित स्थल बनने की ओर अग्रसर है। रेल और सड़क से पूरा प्रदेश बेहतरीन तरीके से जुड़ा है। प्रदेश के अधिकांश प्रमुख शहर हवाई सेवा से जुड़ चुके हैं। शीघ्र ही बरेली, मुरादाबाद, अलीगढ़, आजमगढ़ और कुशीनगर भी हवाई यातायात से जुड़ जाएंगे। जेवर में अंतरराष्ट्रीय स्तर का ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट भी बनने जा रहा है। मुख्यमंत्री ने आयोजक संस्था फिक्की (फेडरेशन आफ इंडियन चैंबर्स आफ कामर्स एंड इंडस्ट्री) की ओर प्रकाशित दो पत्रिकाओं का भी विमोचन किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि देश और विदेश के टूर आपरेटर्स के लिए कुंभ एक मौका होगा।

उत्तर प्रदेश जैसी विविधता

मुख्यमंत्री ने कहा इसके जरिये वह प्रदेश की विविधता और संपन्न परंपरा को देश और दुनिया के समक्ष ला सकते हैं।पर्यटन मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि उत्तर प्रदेश जैसी विविधता दुनिया के किसी भी देश में नहीं है। हमें मिलकर इसे पर्यटकों का सबसे पसंदीदा बनाना होगा। अपर मुख्य सचिव पर्यटन अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा है कि देशी और विदेशी पर्यटकों के आवक के मामले में उत्तर प्रदेश का देश में क्रमश: दूसरा और तीसरा स्थान है। इसे नंबर एक पर लाना है।

स्प्रिचुअल और वेलनेस टूरिज्म पर कार्यशाला

पर्यटन विकास निगम की प्रबंधक निदेश सी इंदुमति ने कुंभ की तैयारियों के बारे में एक प्रस्तुतीकरण दिया। प्रतीक हीरा ने आभार जताया। फिक्की के महामंत्री दिलीप चेनॉय, फिक्की के निवर्तमान चेयरमैन एलके झुनझुनवाला ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में 23 विदेशी और 18 देशी टूर आपरेटर्स के अलावा बड़ी संख्या में होटल उद्योग के प्रतिनिधि, विभागीय अधिकारी और गणमान्य लोग मौजूद थे।
गरीश ओबेरॉय ने कहा कि अगले साल आयोजित होने वाले कुंभ को ध्यान में रखते हुए सितंबर में यहां स्प्रिचुअल और वेलनेस टूरिज्म पर कार्यशाला होगी।

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

केन्द्र सरकार ने जनधन खाताधारकों को दी बड़ी राहत, मिलेगी ये सुविधायें

प्रधानमंत्री जन-धन योजना से जुड़े खाताधारकों को केंद्र सरकार ने बड़ी राहत दी है। जन ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *