Breaking News

जवान जितेंद्र ने हिंसा के समय भीड़ में शामिल होने की बात कुबूली

बुलंदशहर हिंसा में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की हत्या के सम्बन्ध में गिरफ्तार किए गए सेना के जवान जितेंद्र उर्फ जीतू को यूपी एसटीएफ को सौंप दिया गया है। उसे मेरठ से बुलंदशहर भेजा गया है। जहां उससे पूछताछ की जा रही है। यूपी एसटीएफ के एसएसपी अभिषेक सिंह ने इस स्वम्बन्ध में बताया ‘आरोपी जवान जीतू को सेना ने हमें देर रात सौंपा है जिससे प्रारंभिक पूछताछ की गई है,उसे बुलंदशहर भेजा गया है।

बदहाल कानून व्यवस्था को लेकर जिला मुख्यालयों पर “आप” का जोरदार प्रदर्शन

उपद्रव के दौरान भीड़ में शामिल

गौरतलब हो थलसेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने शनिवार को कहा था कि बुलंदशहर घटना की जांच में पूरा सहयोग किया जाएगा। जिसके बाद आरोपी को जीतू को पुलिस के हवाले कर दिया गया। एसएसपी अभिषेक सिंह के मुताबिक आरोपी जवान जीतू ने बुलंदशहर हिंसा के दौरान उपद्रवियों के साथ भीड़ में शामिल होने की बात कुबूली है। हालांकि अभी यह स्‍पष्‍ट नहीं हो पाया है कि इंस्‍पेक्‍टर सुबोध सिंह और युवक सुमित को गोली मारने वालों में वह शामिल था अथवा नहीं। जीतू ने भी पत्‍थरबाजी की घटना में शामिल होने की बात से इनकार किया है।

Loading...

Hockey World Cup : कनाडा को हरा भारत ने क्वार्टरफाइनल में जगह बनाई

साजिश के तहत फंसाया : धर्मेंद्र मलिक

अभिषेक सिंह के अनुसार जीतू ने इस बात को भी कुबूला है कि वह हिंसा के समय गांव वालों के साथ वहां मौजूद था। लेकिन उसने पत्‍थरबाजी की घटना में शामिल होने की बात से इनकार किया है। सोपोर से हिरासत में लिए गए जीतेन्द्र के भाई धर्मेंद्र मलिक ने कहा,मेरे भाई को साजिश के तहत फंसाया जा रहा है मेरे पास उसकी बेगुनाही के सुबूत हैं। धर्मेंद्र मलिक ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी न्याय की गुहार लगाने की बात कही है।

ज्ञातव्य हो बीते तीन दिसंबर को बुलंदशहर के स्याना इलाके के चिंगरावटी क्षेत्र में कथित गोकशी को लेकर उग्र भीड़ की हिंसा में थाना कोतवाली में तैनात इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह तथा युवक सुमित की मौत हो गई थी। इस मामले में अबतक नौ लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

देश की आत्मा को समझने वाले कर रहे हैं सीएए का विरोध: अखिलेश

भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ धर्म के आधार पर भेदभाव करने का आरोप लगाते हुए ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *