Breaking News

परस्पर पूरक हैं कृषि व पशुपालन- आनन्दी बेन

राज्यपाल आनन्दी बेन पटेल ने कहा कि विशाल जनसंख्या वाले हमारे देश के विकास में कृषि एवं पशुपालन का महत्वपूर्ण योगदान है। एक-दूसरे के पूरक रहने वाले ये क्षेत्र राष्ट्र की आजीविका, खाद्य-सुरक्षा एवं आर्थिक अर्जन को समृद्ध करते हैं।

आनंदीबेन पटेल ने आज यहां राजभवन से दीनदयाल उपाध्याय पशु चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय एवं गो अनुसंधान संस्थान, मथुरा द्वारा आयोजित इण्डियन पॉल्ट्री सांइस एसोसिएशन के तीन दिवसीय 37वें सम्मेलन एवं राष्ट्रीय संगोष्ठी का ऑनलाइन उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि बैकयार्ड कुक्कुट पालन भूमिहीन, लघु एवं सीमान्त कृषकों एवं पशुपालकों, ग्रामीणों, महिलाओं एवं युवाओं को आर्थिक आधार प्रदान करने तथा आम सृजन के साथ-साथ उचित पोषण का भी मजबूत आधार है। ये कृषि के सर्वाधिक लाभकारी उद्योगों में से एक है और इस व्यवसाय में आम आदमी की रूचि भी बढ़ रही है। य़ह व्यवसाय किसानों की आर्थिक स्थिति को सृदृढ़ करने वाला तथा कुपोषण से सम्बन्धित समस्याओं से भी निजात दिलाने में सक्षम है।

शिक्षकों की जिम्मेदारी

आनन्दी बेन ने कहा कि पूरे उत्तर प्रदेश के 6-7 जिलों में आदिवासी क्षेत्र हैं, जहाँ वे समूहों में रहते हैं। विश्वविद्यालय के शिक्षक इन जगहों पर जाकर उन्हें विधिवत पशुपालन, दुग्ध उत्पादन में वृद्धि की जानकारी, दूध से विविध उत्पादों के निर्माण की शिक्षा दे सकते हैं। उन्होंने कहा कि ज्ञान को विश्वविद्यालय की परिधि तक ही सीमित न रखें। शिक्षक और विद्यार्थी गाँवों में जाकर ऐसे परिवारों से जुड़ें और ज्ञान एवं अनुसंधानों का लाभ प्रदान कर उनकी सामाजिक और आर्थिक उन्नति में सहायक बनें।

उन्होंने जोर दिया कि विश्वविद्यालय में हुए शोध और प्रयोगशालाओं को जनता से जोड़कर व्यापक रूप से उपयोगी बनाया जाए। राज्यपाल ने ऐसे विषयों पर अल्पावधि के सर्टिफिकेट कोर्स बनाने और नवीन शोधों पर कार्यक्रम करके विद्यार्थियों को उनमें जोड़ने पर भी जोर दिया। उन्होंने कहा कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत लाभकारी विषयों पर प्रतिवर्ष शार्ट टर्म कोर्स बनाकर विद्यार्थियों को उपलब्ध कराए जाएं, जिससे तात्कालिक उपयोगिता की पूर्ति निरन्तरता से होती रहे।

About Samar Saleel

Check Also

राज्यपाल द्वारा नैक प्रस्तुतिकरण की समीक्षा

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें राज्यपाल आनन्दी बेन पटेल द्वारा वीर बहादुर सिंह ...